DA Image
28 नवंबर, 2020|4:07|IST

अगली स्टोरी

आज आ सकते हैं टिड्डी दल, किसान रहें सतर्क

default image

राजस्थान के करौली और बालाजी क्षेत्र में मौजूद दो टिड्डी दल शुक्रवार की सुबह आगरा होते हुए जनपद में प्रवेश कर सकते हैं। जिला कृषि रक्षा अधिकारी डॉ.योगेंद्र कुमार ने यह जानकारी देते हुए किसानों से कहा है कि सतर्क रहकर सुझाए गए उपाय करें ताकि हरी फसल को टिड्डी दल के हमले से बचाया जा सके।

जनपद में टिड्डी दल के आक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। दो टिड्डी दल राजस्थान के जनपद करौली पहुंच चुके हैं। यह भारतपुर या करौली के रास्ते आगरा होते हुए फिरोजाबाद में शुक्रवार सुबह प्रवेश कर सकते हैं। इसलिए किसान भाई सतर्क रहकर खेतों में टिड्डी दल को भगाने के आवश्यक इंतजाम रखें। उन्होंने बताया कि सीडीओ नेहा जैन ने ग्राम स्तरीय लेखपाल एवं अन्य कर्मचारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। ताकि जनपद के किसी भी क्षेत्र में टिड्डी दल द्वारा फसल पर हमला किए जाने से पूर्व ही उसे भगा सकें। उन्होंने बताया कि टिड्डी दल में करोड़ों की संख्या में कीट होते हैं।

टिड्डी दल के आक्रमण के समय करें यह उपाय

फिरोजाबाद। किसान टिड्डी दल के आक्रमण के समय अपने खेतों में आग जलाकर, पटाखे फोड़कर, थाली बजाकर, ढोल-नगाड़े बजाकर आवाज करें। कीटनाशक रसायनों जैसे क्लोरीपीरिफॉस, साइपरमैथरीन, डेल्टा मेथ्रिन का टिड्डी दल पर छिड़काव करें।

शाम 7 बजे के बाद जमीन पर बैठता है टिड्डी दल

फिरोजाबाद। यह टिड्डी दल शाम को 6 से 7 बजे के आसपास जमीन पर बैठ जाता है और फिर सुबह 8 से 9 बजे के करीब उड़ता है। अतः इसी अवधि में इन पर कीटनाशक दवाओं का छिड़काव करके इन्हें मारा जा सकता है। यदि आपके क्षेत्र में टिड्डी दल दिखाई देता है तो उपरोक्त उपाय को अपनाते हुए तत्काल अपने क्षेत्र के लेखपाल, कृषि विभाग के कर्मचारी को सूचित करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Locust teams can come today farmers should be cautious