DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पर टिकी रहीं उद्योग जगत की निगाहें

टीटी जोन के मामले की सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई पर कांच नगरी के उद्योग जगत की निगाहें टिकी रहीं। नगर के अनेक उद्यमी दिन भर सुनवाई की जानकारी करने का जतन करते रहे। उद्यमी यह जानना चाह रहे थे कि कांच नगरी की इकाइयों की गैस वृद्धि के मामले पर अदालत का कैसा रुख रहा। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में हुई ताज ट्रिपेजियम जोन के मामले की सुनवाई ताज महल के संरक्षण के मद्देनजर यूपी सरकार द्वारा प्रस्तुत विजन डाक्यूमेंटस पर केन्द्रित रही। न्यायमूर्ति मदन बी. लोकुर एवं न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने सरकारी सम्बंधित पक्षों से विजन डाक्यूमेंटस को लेकर जानकारी प्राप्त की। अदालत ने सरकारी वकील से पूछा कि विजन डाक्यूमेंटस की प्रति सभी पक्षों को प्राप्त करा दी गई है या नहीं। जवाब हां में मिलने पर अदालत ने कहा कि विजन डाक्यूमेंटस की स्टडी के लिए याचिकाकर्ता एमसी मेहता सहित सभी पक्षों को चार सप्ताह का समय दिया जाता है। इस बीच वे इसकी स्टडी कर सुनवाई की अगली तारीख पर अपना सुझाव प्रस्तुत करें। मामले की सुनवाई के लिए 28 अगस्त की तारीख नियत कर दी गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In the Supreme Court, the eyes of the industry watched