DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शौचालय निर्माण की प्रगति में जनपद फिसड्डी

स्वच्छ भारत मिशन अभियान के जागरुकता कार्यक्रम एवं शौचालय निर्माण में कभी अग्रणी भूमिका निभाने वाली सुहागनगरी इस समय मंडल में भी सबसे निचले पायदान पर खड़ी है। मुख्यमंत्री द्वारा की गई समीक्षा के दौरान शौचालय निर्माण प्रगति में जनपद को फिसड्डी होने का तमगा मिलने के बाद कमिश्नर ने 30 नवम्बर तक रिपोर्ट मांगी है।

स्वच्छ भारत मिशन के जागरुकता अभियान को लेकर तत्कालीन जिलाधिकारी के समय जिले की चर्चाएं पूरे प्रदेश में हो रही थीं लेकिन तत्कालीन जिलाधिकारी वर्तमान मिशन निदेशक विजय किरन आनंद अब उसी जनपद में अभियान की प्रगति से खुश नहीं बताए जा रहे हैं। पिछले दिनों मुख्यमंत्री द्वारा की गई समीक्षा के दौरान जिले की प्रगति की गति पर असंतोष व्यक्त किया गया था। कमिश्नर के राम मोहन राव द्वारा जिलाधिकारी को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि जनपद में खुले में शौचमुक्त किए जाने वाले ग्रामों का लक्ष्य 243 था लेकिन 73 ग्राम ही ओडीएफ हो सके। वहीं प्रतिदिन शौचालय निर्माण की प्रगति का लक्ष्य 343 के सापेक्ष 143 शौचालय निर्माण की प्रगति अपलोड हो सकी। जिले की शौचालय निर्माण की भौतिक प्रगति 46.42 फीसदी हैं। जो इस समय आगरा मंडल में सबसे कम हैं। कमिश्नर ने लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति न होने को लेकर जिलाधिकारी को लिखे पत्र में 30 नवम्बर को आख्या मांगी है। जिलाधिकारी के निर्देश पर स्वच्छ भारत मिशन की स्थानीय टीम अब लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति के लिए गांवों की दौड़ लगा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In the progress of toilet construction, the district slum