DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश फिरोजाबादआधे बच्चे फर्नीचर पर, आधे बैठते जमीन पर

आधे बच्चे फर्नीचर पर, आधे बैठते जमीन पर

हिन्दुस्तान टीम,फिरोजाबादNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 07:00 PM
आधे बच्चे फर्नीचर पर, आधे बैठते जमीन पर

स्कूल चलो अभियान के जरिए बच्चों को स्कूल बुलाने पर तो सरकार का जोर है, लेकिन स्कूल पहुंच रहे छात्रों के लिए पर्याप्त सुविधाएं स्कूलों में नहीं हैं। शहर स्थित रेहना जूनियर हाईस्कूल में हालात यह है एक ही क्लास में पढ़ने वाले 30 फीसद बच्चों को मेज-कुर्सी पर बैठकर पढ़ने का मौका मिल रहा है तो 70 फीसद जमीन पर बैठने को मजबूर हैं।

जूनियर हाईस्कूल रेहना में कक्षा छह, सात एवं आठ में सौ से ऊपर छात्र संख्या है। ऐसे में क्लास रूम भी छोटे पड़ रहे हैं। शनिवार को हिंदुस्तान टीम स्कूल में पहुंची तो कक्षा छह में स्थिति यह थी कि बैंचों के बीच की गैलरी के साथ में पीछे पड़ी खाली जगह में बच्चे बैठे थे। यहां तक कि ब्लेकबोर्ड के नीचे भी छात्राओं को बैठाया गया था, जिन्हें बोर्ड पर देखने के लिए बार-बार सिर ऊंचा करना पड़ रहा था। कक्षा छह में 136 बच्चे अध्ययनरत हैं। कुछ ऐसी ही स्थिति कक्षा सात एवं आठ में देखने को मिली। इन क्लासों में भी बच्चों की संख्या के सापेक्ष फर्नीचर कम पड़ गया है। स्कूल प्रधानाध्यापक मुनीश कुमार शर्मा का कहना है कि कई बार विभाग को अवगत कराया है। छात्र संख्या ज्यादा है तथा संसाधन कम। ऐसे में बच्चों को पढ़ाने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

-वर्जन-हम स्कूल में जाकर स्थिति को देखेंगे। इसके बाद ही कुछ कहना संभव होगा कि क्या व्यवस्था हो सकती है।

-विजय सिंह, खंड शिक्षाधिकारी फिरोजाबा

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें