Drinking water supply will not be available in the city without chlorine - बिना क्लोरीन के शहर में नहीं होगी पेयजलापूर्ति DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना क्लोरीन के शहर में नहीं होगी पेयजलापूर्ति

बिना क्लोरीन के अब पेयजलापूर्ति नहीं हो पाएगी। प्रदूषित पानी के कारण शहर में फैलने वाले संक्रामक रोगों को देखते हुए जनपद के स्वास्थ्य विभाग द्वारा यह निर्णय लिया है। इस संबंध में विभाग द्वारा नगर निगम के जलकल विभाग को भी निर्देश जारी कर दिए हैं। वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के अलावा प्रमुख जलाशयों में भी क्षमता के हिसाब से दवा डालने को कहा है।

भीषण गर्मी के दौरान शहर को संक्रामक रोगों से बचाने को जिले का स्वास्थ्य विभाग पूरी सतर्क है। इसके लिए विभागीय अधिकारियों ने नगर निगम के अलावा जलनिगम विभाग से भी सहयोग की अपेक्षा की है। नगर में अधिकांशत: पानी की सप्लाई वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के अलावा सबमर्सेबिल एवं नलकूपों के माध्यम से की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शहर में दूषित पेयजल के कारण ही लोग संक्रामक रोगों को शिकार बनते हैं। ऐसी स्थिति को देखते ही स्वास्थ्य विभाग ने सप्लाई होने वाले प्वाइंट से ही क्लोरीन दवा डालने का निर्णय लिया है। विभाग ने नगर निगम के जलकल विभाग से कहा है कि वह शहर के जलाशयों में पानी की क्षमता के अनुरूप क्लोरीन डालकर सप्लाई कराएं। इसके अलावा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट पर भी दवा डालें। सबमर्सेबिलों द्वारा होने वाली पानी की सप्लाई पर भी दवा डालने के प्रबंध किए जाएं। एक लाख लीटर पानी में 12 लीटर दवा डाली जाती है।

ग्रामीण अंचलों में आशा निभाएगी जिम्मेदारी

शहर क्षेत्र के अलावा ग्रामीण अंचलों में भी क्लोरीन दवा के बिना पानी सप्लाई पूरी तरह प्रतिबंधित कर दी गई है। इसके लिए विभाग द्वारा क्षेत्रीय आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को विशेष जिम्मेदारी सौंपी गई है।

स्वास्थ्य टीम भी करेगी निरीक्षण

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.शिव कुमार दीक्षित ने कहा है कि शहर के अलावा ग्रामीण अंचलों में पानी की सप्लाई पर स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार निरीक्षण करेंगी।

मलिन बस्तियों पर रहेगी विशेष नजर

शहर में मलिन एवं पिछड़े इलाकों पर स्वास्थ्य विभाग की कड़ी नजर रहेगी। अधिकारियों का मानना है कि ऐसे ही इलाकों में अधिकांशत: दूषित पानी की शिकायतें मिलती रहती हैं।

बोले सीएमओ...

संक्रामक रोगों पर शिंकजा कसने के लिए विभाग द्वारा पानी पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। नगर निगम के अलावा जलनिगम से कहा है कि बिना क्लोरीन दवा के पानी की सप्लाई न की जाए।

-डॉ.शिव कुमार दीक्षित, सीएमओ

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Drinking water supply will not be available in the city without chlorine