DA Image
27 सितम्बर, 2020|3:33|IST

अगली स्टोरी

वंचित टीबी रोगियों को घर पर ही मिलेगी धनराशि

default image

निक्षय पोषण योजना(एनपीवाई) के तहत ऐसे टीबी मरीजों को अब घर बैठे ही 500 रुपये की धनराशि मिलेगी जिनको अभी तक इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। ऐसे पात्रों की खोज के लिए शासन द्वारा जनपद भर में डीबीटी चलाया गया है। 17 अगस्त से 16 सितंबर 2020 तक चलने वाले इस अभियान के तहत क्षय रोग विभाग के कर्मचारी घर-घर जाकर मरीजों के एकाउंट कलेक्शन करने में जुटे हैं।

केंद्र एवं राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार क्षय रोगियों को प्रतिमाह 500 रुपये की धनराशि उनके खाने-पीने के लिए दी जाती है। कोरोना काल एवं अन्य कारणों से कई टीबी मरीजों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसी को देखते हुए उप महानिदेशक (टीबी) स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण नई दिल्ली द्वारा शासन की निक्षय और सनी योजना को लागू कराने के लिए प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग को निर्देश जारी किए हैं। उप महानिदेशक के अनुसार क्षय रोगियों को घर बैठे धनराशि दिलाने के लिए डीबीटी यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर अभियान को शुरू किया जाए। इसके अलावा इसके प्रचार प्रसार के लिए जगह-जगह पोस्टर, स्लोगन, पंपलेट वितरण के अलावा मीडिया एवं सोशल मीडिया का प्रयोग अधिक से अधिक किया जाए। डीबीटी योजना के तहत विभागीय टीमें ऐसे रोगियों के एकाउंट कलेक्शन करें जिन्हें अभी तक इस योजना का लाभ नहीं मिल सका है।

जल्द एकाउंट में ट्रांसफर होगी धनराशि

जिला क्षय रोग नियंत्रण केंद्र प्रभारी डॉ.अशोक कुमार ने बताया है कि जिले में विभागीय टीमें क्षय रोगियों के एकाउंट का कलेक्शन करने में जुटी हैं 16 सितंबर माह तक यह कार्य लगातार जारी रहेगा। इसके तत्काल बाद पात्र लोगों को धनराशि उनके एकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Deprived TB patients will get money at home