DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › फिरोजाबाद › खारजा नहर उफान पर बांध फिर टूटा, गांव में घुसा पानी
फिरोजाबाद

खारजा नहर उफान पर बांध फिर टूटा, गांव में घुसा पानी

हिन्दुस्तान टीम,फिरोजाबादPublished By: Newswrap
Sat, 24 Jul 2021 08:01 PM
खारजा नहर का पानी फिर बांध तोड़कर गांव में घुस गया है। नहर का बढ़ता जलस्तर ग्रामीणों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। हजारों बीघा फसल डूबने को अपने आगोश...
1 / 2खारजा नहर का पानी फिर बांध तोड़कर गांव में घुस गया है। नहर का बढ़ता जलस्तर ग्रामीणों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। हजारों बीघा फसल डूबने को अपने आगोश...
खारजा नहर का पानी फिर बांध तोड़कर गांव में घुस गया है। नहर का बढ़ता जलस्तर ग्रामीणों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। हजारों बीघा फसल डूबने को अपने आगोश...
2 / 2खारजा नहर का पानी फिर बांध तोड़कर गांव में घुस गया है। नहर का बढ़ता जलस्तर ग्रामीणों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। हजारों बीघा फसल डूबने को अपने आगोश...

खारजा नहर का पानी फिर बांध तोड़कर गांव में घुस गया है। नहर का बढ़ता जलस्तर ग्रामीणों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। हजारों बीघा फसल डूबने को अपने आगोश में लेने के बाद अब पानी गांव में भी घुस गया है। ग्रामीण दहशत में हैं। जल्द ही पानी न रोका गया तो स्थिति बिगड़ सकती है और ग्रामीण पलायन को मजबूर होंगे।

गुरुवार को जलस्तर बढ़ने से खाजा नहर का बांध टूट गया था। बांध टूटते ही करीब आधा दर्जन गांव देवा, कटाना, जैतपुर, मछरिआई, नगला पसी, सर्बपुर आदि आधा दर्जन गांव इसकी चपेट में आ गए थे। शुक्रवार को प्रशासन द्वारा बांध पानी रोकने के लिए बांध बाधा गया लेकिन शनिवार को पानी के तेज बहाव ने फिर बांध तोड़ दिया। स्थिति यह कि पानी गांवों में भी घुस गया है जिससे ग्रामीण भयभीत हैं। ग्रामीण अपने स्तर से भी पानी रोकने के तरह-तरह से प्रयास कर रहे हैं लेकिन तेज बहाव के कारण मिट्टी का कटान लगातार जारी है। ग्रामीण बिजनेस कुमार, भुल्ली यादव, राजेश पंडित, दया उपाध्याय, राम लखन, विद्यासागर आदि का कहना है कि गांव के हिस्से डूबने की कगार पर हैं लेकिन प्रशासन द्वारा नहर की सफाई के नाम पर खानापूर्ति कर इतिश्री कर ली गयी। अभी तक शासन का कोई भी जनप्रतिनिधि यहां नहीं पहुंचा है जिससे ग्रामीणों में काफी गुस्सा है। उन्होंने प्रशासन से स्थिति को ठीक करने और मुआवजा दिलाने की मांग की है।

संबंधित खबरें