DA Image
5 अगस्त, 2020|7:31|IST

अगली स्टोरी

प्राइवेट क्लीनिक और नर्सिंग होमों पर कड़ी नजर

default image

जनपद के किसी भी मरीज को प्राइवेट क्लीनिक और नर्सिंग होम में अब किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। शहर के प्रमुख नौ अस्पतालों में सीएमओ द्वारा चिकित्सकों की तैनाती की गई है। जो मरीज की समस्याओं का मौके पर ही समाधान करेंगे।

लॉक डाउन के दौरान प्राइवेट चिकित्सकों को दिखाने में अभी तक जो मरीजों को दिक्कतें आ रही थीं उसको लेकर के सीएमओ डॉ.शिव कुमार दीक्षित द्वारा इसका समाधान कर दिया गया है। शहर के नौ अस्पतालों का चयन करके वहां अलग-अलग सीएचओ को तैनात किया गया है। सीएमओ ने बताया है कि सभी सीएचओ का काम अस्पताल अथवा नर्सिंग होम में पहुंचने वाले मरीजों पर नजर रखना होगा तथा अगर किसी मरीज को कोई परेशानी है तो उसका तत्काल निराकरण कराएंगे। यदि मामला गंभीर है तो सीएचओ इसकी जानकारी तत्काल उन्हें देंगे। सीएमओ में आईएमए के अध्यक्ष से भी कहा है कि वह इस संदर्भ में प्रतिदिन की गतिविधियों की जानकारी उन्हें देंगे।

प्रमुख चयनित शहर के अस्पताल

एमसी अग्रवाल हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, बंसल नर्सिंग होम छंगामल का बाग, जीवन ज्योति नर्सिंग होम, मोहन भैया हॉस्पिटल, जीवन धारा हॉस्पिटल, प्राइवेट ट्रॉमा सेंटर, डॉ.अपूर्व चतुर्वेदी क्लीनिक, कमलेश पैथोलॉजी सेंटर, डॉ एसपीएस चौहान क्लीनिक को चयनित किया है।

डॉ.विनोद कुमार होंगे नोडल अधिकारी

सीएमओ ने बताया है कि मरीजों की परेशानियों को लेकर के उन्होंने एसीएमओ डॉ.विनोद कुमार को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। जिनका नंबर 9412064656 है। इस पर संपर्क किया जा सकता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Close watch on private clinics and nursing homes