DA Image
30 नवंबर, 2020|7:22|IST

अगली स्टोरी

कैश पकड़े जाने से कारोबारी परेशान

default image

टूंडला के उपचुनाव को लेकर आचार संहिता के बीच प्रशासनिक सख्ती कारोबारियों को परेशान कर रही है। एक ओर दीपोत्सव के त्योहार को लेकर आगरा से होने वाले व्यापार को लेकर अधिकांश सामान को लाना और कैश लेकर जाने के बीच चेकिंग से आ रही दिक्कतों ने परेशान कर डाला है।

टूंडला के उपचुनाव को लेकर प्रशासन ने चेकिंग को सख्त कर दिया है। तीन नवंबर को होने वाले मतदान के मद्देनजर मतदान को प्रभावित करने के लिए मतदाताओं तक कोई प्रलोभन न पहुंचाया जाए इसे लेकर स्टेटिक मजिस्ट्रेटों और पुलिस की टीमों द्वारा वाहनों की चेकिंग की जा रही है। टूंडला एक ऐसा सेंटर प्वाइंट है जहां से होकर कासगंज और एटा का कारोबार आगरा से चलता है। वहीं इसी मार्ग से होकर आगरा के लिए मैनपुरी, फिरोजाबाद के व्यापारी भी आते-जाते हैं। दीपावली का त्योहार होने के चलते लगातार व्यापारियों द्वारा कारोबार के मद्देनजर आगरा से सामान को मंगाया जा रहा है। कारोबारियों द्वारा कैश देकर ही सामान भेजा जाता है। वहां जो लोगों के क्रेडिट पर सामान आता है उसका कैश लेकर भी इन जिलों के मुनीम और व्यापारियों के लोग लाते और ले जाते हैं। अब कैश को जब्त करने की कार्रवाई ने तीन नवंबर तक कारोबारियों को कैश लेकर आने जाने पर ब्रेक लगाना पड़ेगा।

इस तरह पकड़ी गई करीब 60 लाख की राशि

टूंडला के उपचुनाव को लेकर पचोखरा में पुलिस द्वारा चेकिंग में कासगंज के घी कारोबारी से 50 लाख रुपये व नारखी पुलिस द्वारा चेकिंग में रजावली चौराहा से करीब 10 लाख रुपये की धनराशि पकड़ी गई। दोनों कारोबारियों की धनराशि को ट्रेजरी में जमा कराते हुए रुपयों के सबूत मांगे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Businessmen upset due to cash capture