DA Image
20 अक्तूबर, 2020|2:50|IST

अगली स्टोरी

राष्ट्रीय अखंडता दिवस के रूप में मनेगा लौह पुरुष का जन्मोत्सव

default image

लौह पुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल के जन्म दिवस 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय अखंडता दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इस संबंध में प्रदेश सरकार द्वारा नई गाइड लाइन जारी की है। सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि उनके जन्मोत्सव पर कोरोना के नियमों का पालन करते हुए रैलियों के अलावा देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। इन कार्यक्रमों व्यय होने वाली धनराशि शासन द्वारा डीएम को अवमुक्त कर दी जाएगी।

शासन की ओर से इस संबंध में प्रमुख सचिव जितेंद्र कुमार ने पत्र के माध्यम से बताया है कि सरदार बल्लभभाई पटेल के जन्मोत्सव 31 अक्टूबर को इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाएं जिससे लोगों को उनके बारे में जानकारियां हासिल हो सकें। उन्होंने कहा है कि इस अवसर पर जिलेभर में रैलियां निकालने के अलावा राष्ट्रीय एवं देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रम आयोजित किए जाएं।

पटेल के जीवन से संबंधित कार्यक्रमों में विस्तृत परिचर्चा की जाए। इसके अलावा राष्ट्रीय अखंडता पर बल देने से संबंधित बैठकें, विचार गोष्ठी और सेमिनार आयोजित किए जाएं। प्रमुख सचिव ने कहा है कि उक्त कार्यक्रमों का पूरा खर्च शासन द्वारा वहन किया जाएगा। इसके लिए शासन द्वारा डीएम के मद में 5000 की धनराशि अवमुक्त की जाएगी।

विभिन्न विभागों को सौंपे गए दायित्व

प्रमुख सचिव ने पत्र द्वारा अवगत कराया है कि उपरोक्त सभी कार्यक्रमों के लिए डीआईओएस, बीएसए, जिला क्रीड़ा अधिकारी, सूचना विभाग, श्रम कल्याण अधिकारी के अलावा स्वयंसेवी संस्थाओं की अहम जिम्मेदारी होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Birth anniversary of Iron Man as National Integration Day