DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › फिरोजाबाद › विजिलेंस के छापे की भनक पर एओ दफ्तर से बाबू-अधिकारी गायब
फिरोजाबाद

विजिलेंस के छापे की भनक पर एओ दफ्तर से बाबू-अधिकारी गायब

हिन्दुस्तान टीम,फिरोजाबादPublished By: Newswrap
Mon, 27 Sep 2021 07:10 PM
विजिलेंस के छापे की भनक पर एओ दफ्तर से बाबू-अधिकारी गायब

सोमवार को बेसिक शिक्षा विभाग के लेखा विभाग में सुबह पहुंचे बाबू एवं कर्मचारी पूर्वाह्न सवा 11 बजते ही दफ्तर से निकल गए। साढ़े 11 बजे तक पूरा दफ्तर खाली हो गया था। बताया जाता है कि लेखा विभाग में बाबुओं की शिकायत विजिलेंस से की गई थी, इस पर विजिलेंस ने सुबह से ही डेरा डाला हुआ था। किसी तरह से बाबुओं को भनक लग गई। दोपहर बाद एक शिक्षक संघ के प्रदेशस्तरीय पदाधिकारी भी बीएसए दफ्तर में देखे गए।

बीएसए दफ्तर में ऊपरी मंजिल पर संचालित लेखा विभाग को लेकर शिक्षक कई बार शिकायतें कर चुके हैं। सोमवार को बीएसए दफ्तर अपने वक्त पर खुला। लेखा विभाग में भी सुबह अधिकारियों के साथ कर्मचारी पहुंचे लेकिन 11 बजे के बाद में एक-एक कर बाबू दफ्तर से निकलने लगे। बाबूओं के जाने के बाद में वित्त एवं लेखाधिकारी भी दफ्तर से निकल गए। चर्चा है कि किसी शिक्षक की शिकायत पर विजिलेंस टीम ने दफ्तर की घेराबंदी की थी। सोमवार सुबह से ही बीएसए दफ्तर की तरफ जाने वाली सड़क पर भी कई गाड़ियां खड़ी हुई थी लेकिन किसी तरह से बाबुओं को भनक लग जाने पर सभी दफ्तर से गायब हो गए। साढ़े 11 बजे के बाद में दफ्तर में सिर्फ एक सेवानिवृत्त कर्मचारी ही रह गए थे। दोपहर बाद लेखा विभाग में सभी कुर्सियों के खाली होने पर नीचे बीएसए दफ्तर में भी विजिलेंस टीम आने की चर्चा छाई रही।

एक शिक्षक संगठन ने ग्रुप में की पोस्ट

लेखा विभाग की खाली कुर्सियों के फोटो के साथ में एक शिक्षक संघ के पदाधिकारी ने भी शिक्षकों के ग्रुप में पोस्ट की। इसमें छापे से पहले सभी के जाने की बात कही।

संगठन के प्रदेश स्तरीय पदाधिकारी थे साथ

माना जा रहा है कि जिस शिक्षक संगठन के द्वारा शिकायत कराई गई थी, उसके प्रदेश स्तरीय पदाधिकारी भी सुबह से ही फिरोजाबाद में बीएसए दफ्तर के इर्द-गिर्द थे। दोपहर बाद में वह बीएसए दफ्तर में भी पहुंचे तथा उन्होंने लेखा विभाग के फोटो भी खींचे।

- सुबह जब हम दफ्तर पहुंचे थे तो राजकपूर एवं सेठी का अवकाश प्रार्थना पत्र रखा हुआ था। पौने 12 बजे करीब हम नीचे गए तथा हमने बैंच की नाप कराई। इसके बाद ट्रेजरी दफ्तर के लिए निकले थे। आगरा में एक गमी हो गई थी लिहाजा हम आगरा गए थे। विजिलेंस की किसी भी तरह की जांच की हमें कोई खबर नहीं है।

- मो.जावेद वित्त एवं लेखाधिकारी फिरोजाबाद

संबंधित खबरें