DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एचआईवी पीड़िता की जांच को लेकर हंगामा

जिला अस्पताल में एसटीआई में तैनात महिला काउंसलर के मनमानी के कारण एचआईवी से पीड़ित मरीज अस्पताल के चक्कर काट रहे हैं। आरोप है कि वह खून की जांच के लिए आनाकानी कर उन्हें भगा देती है। बुधवार को भी ऐसा ही मामला सामने आया। सीएमएस के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। थाना दक्षिण के मौहल्ला करबला निवासी 35 वर्षीय महिला ने पिछले दिनों प्राइवेट अस्पताल में अपना एचआईवी टेस्ट कराया था। वहां पर रिपोर्ट पोजीटिव आई। बुधवार को महिला जिला अस्पताल पहुंची। पर्चा बनवाने के बाद एचआईवी के टेस्ट के लिए कमरा नम्बर सात में महिला काउंसलर के पास पहुंची। उसने चार या पांच जून को टेस्ट के लिए बुलाया। महिला ने काफी आग्रह किया परंतु वह नहीं मानीं। इसकी शिकायत डा. आरके पांडेय से की। उन्होंने पर्चे पर काउंसलर के लिए लिख दिया। उसके बाद भी महिला का पर्चा नहीं चढाया। इसपर परिजनों ने हंगामा काटना शुरू कर दिया। अस्पताल में कर्मचारियों ने अपनी जिम्मेदारी पर महिला के खून का नमूना लेकर जांच की तब मामला शांत हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Anger over the investigation of HIV sufferers