DA Image
27 मार्च, 2020|3:00|IST

अगली स्टोरी

मरीजों का तापमान देखने के बाद वार्ड में लिया गया

default image

कोरोना से बचाव को मेडिकल कॉलेज की ओपीडी बंद कर दी गई है। वहां मात्र बुखार और खांसी के मरीज ही देखे जा रहे हैं। मरीजों का तापमान चेक करने के बाद ही चिकित्सक के पास जाने दिया जा रहा है। लाइन लगाने में भी मरीजों के बीच दूरी बनाई जा रही है।

मेडिकल कॉलेज में विभिन्न रोगों के मरीजों का आना लगा हुआ है। पर यहां पर मात्र बुखार, जुकाम, खांसी के मरीजों को ही देखा जा रहा है। मरीजों को देखने को 35 नंबर में ही व्यवस्था की गई है। वहां पर चिकित्सक बैठकर मरीजों को देख रहे हैं। मरीजों को कमरे तक जाने के लिए भी परीक्षण से गुजरना पड़ रहा है। मशीन से उसका तापमान देख कर ही अंदर जाने दिया जा रहा है। उसके बाद चिकित्सक उनको देखकर दवा लिख रहे हैं। मरीजों को एक-एक करके ही अंदर जाने दिया जा रहा है। दवा लेने के बाद वहां मौजूद लोगों को खड़ा नहीं रहने दिया जाता है। एक मरीज के साथ एक ही तीमारदार को आने दिया जा रहा है। अनावश्यक रूप से वहां भीड़ नहीं लगाने दी जा रही है। इसी प्रकार सरकारी ट्रॉमा सेंटर में भी व्यवस्था की गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After seeing the temperature of the patients taken in the ward