DA Image
30 नवंबर, 2020|7:41|IST

अगली स्टोरी

कन्या पूजन में दिखी सामाजिक समरसता की झलक

default image

बजरंग दल, प्रज्ञा राष्ट्र निर्माण एवं विश्व हिंदू परिषद के तत्वाधान में रविवार को कांता होटल में विशाल कन्या पूजन का आयोजन संपन्न हुआ। आयोजन भगवान वाल्मीकि के जन्मोत्सव पर आयोजित किया। इसमें सर्व समाज की कन्याओं ने एक साथ भोजन किया। बाद में सभी कन्याओं का पूजन के साथ संगठन के पदाधिकारियों ने उपहार देते हुए उन्हें विदा किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ सदर विधायक मनीष असीजा और भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने कन्याओं का पूजन करके किया। इस मौके पर सदर विधायक ने इस आयोजन को सामाजिक समरसता की एक मिसाल बताया। उन्होंने कहा कि इससे आभास होता है कि देश से अब छुआछूत की प्रथा खत्म होती जा रही है। उन्होंने कहा कि कन्याएं देवी का रूप होती हैं जिन्हें हम सभी को सम्मान देना चाहिए। ऐसा हमारे पुराणों में भी लिखा है। बजरंग दल के प्रदेश अध्यक्ष वीनेश भाई ने कहा हम सभी को न केवल कन्याओं का सम्मान करना चाहिए बल्कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ के साथ उन्हें लगातार आगे बढ़ाना चाहिए। इसी क्रम में युवा कवयित्री डॉ.पीयूष शर्मा ने अपनी कविताओं के माध्यम से बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ को लेकर लोगों के बीच अपना संदेश दिया। उन्होंने कहा कि आज बेटियां लड़कों से अधिक अच्छे कार्य कर रही हैं। दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ यह कार्यक्रम देर शाम तक चलता रहा। इसके पश्चात संगठन के तमाम पदाधिकारियों ने कन्याओं को पूजन एवं उपहार देते हुए उन्हें डर के लिए विदा किया। कार्यक्रम में कौशल उपाध्याय, नंदू ठाकुर, हरीश राजौरिया, गौरव के अलावा सैकड़ों की संख्या में मौजूद थे।

प्रसन्न नजर आ रही थी कन्याएं

विशाल मैदान पर एक साथ बैठकर भोजन करते समय नन्ही नन्ही बालिकाओं के चेहरे पर खुशी देखते ही बन रही थी। भोजन के बाद उन्हें जैसे ही चुनरी उड़ाई गई तो वह खिलखिला उठीं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A glimpse of social harmony seen in Kanya Poojan