48 schools operated without approval will be closed - बगैर मान्यता चल रहे 48 स्कूलों में लगेगा ताला DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बगैर मान्यता चल रहे 48 स्कूलों में लगेगा ताला

शिक्षा अधिकार अधिनियम में बगैर मान्यता विद्यालयों का संचालन नहीं हो सकता। लेकिन जिले में दर्जनों स्कूल बगैर मान्यता धड़ल्ले से संचालित हो रहे हैं। डीएम ने तीन अधिकारियों की कमेटी बनाकर सूचीबद्ध 48 अमान्य स्कूल बंद कराने के निर्देश दिए हैं।

शिक्षा निदेशक बेसिक ने अमान्य स्कूलों को बंद कराने को लेकर पत्र जारी किया था। उसी पत्र का संज्ञान लेकर डीएम चंद्रविजय सिंह ने जनपद में खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से चिन्हित 48 अमान्य स्कूलों के संचालन पर पूरी तरह अंकुश लगाने के निर्देश दिए हैं। ब्लाक स्तरीय कमेटी में संबंधित तहसीलदार के अलावा क्षेत्राधिकारी व खंड शिक्षाधिकारी को शामिल किया गया है। तीन अधिकारियों की कमेटी अपने क्षेत्र के खंड शिक्षाधिकारी के माध्यम से चिन्हित अमान्य स्कूलों को प्रत्येक दशा में बंद करवाकर रिपोर्ट बेसिक शिक्षाधिकारी को निर्धारित अवधि में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। बेसिक शिक्षा अधिकारी डा.अरविंद पाठक ने बताया कि कमेटी का गठन डीएम द्वारा किया है। अब यह कमेटी ही अमान्य स्कूलों पर कार्यवाही करेगी। उन्होंने कहा कि पूर्व में खंड शिक्षाधिकारियों द्वारा सूचीबद्ध किए गए अमान्य स्कूलों को प्राथमिकता के आधार पर बंद कराया जाएगा। उसके पश्चात अन्य अमान्य स्कूलों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

सूची में शामिल नहीं दर्जनों स्कूल

फिरोजाबाद। शासन की सख्ती के पश्चात पूर्व में खंड शिक्षाधिकारियों ने अमान्य स्कूलों को चिन्हित करने के नाम पर खानापूर्ति की थी। जिसका उदाहरण अमान्य स्कूलों की संख्या है। जिसके कारण नौ ब्लाक क्षेत्र व नगर क्षेत्र में केवल 48 स्कूलों ही चिन्हित किए जा सके थे। देखना यह होगा अब प्रशासन इन्हीं 48 स्कूलों को बंद कराने की कार्यवाही करेगा अथवा जिले में संचालित सभी अमान्य स्कूल बंद कराए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:48 schools operated without approval will be closed