DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समायोजन में 236 शिक्षक हुए इधर से उधर

default image

बेसिक शिक्षा विभाग में कार्यरत शासन के निर्देश पर 236 शिक्षक इधर से उधर किए गए हैं। इसमें 78 शिक्षक पारस्परिक स्थानांतरण एवं 158 सरप्लस शिक्षकों के समायोजन की सूची शामिल हैं। बीएसए ने सभी शिक्षकों को एक सप्ताह में नवीन तैनाती वाले स्कूल में कार्यभार ग्रहण करने के निर्देश दिए हैं।

बेसिक शिक्षा विभाग में कई दिन से पारस्परिक स्थानानतरण व सरप्लस शिक्षकों के समायोजन को लेकर कवायद चल रही थी। शिक्षा निदेशक द्वारा बार-बार रिपोर्ट मांगे जाने एवं 16 अगस्त अंतिम तिथि तय कर दिए जाने के कारण जिलाधिकारी की अध्यक्षता वाली कमेटी ने स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संख्या पर समायोजन सूची पर मोहर लगा दी। शुक्रवार को समायोजन सूची जारी होने की जानकारी मिलने से शिक्षकों हलचल तेज हो गई। कई शिक्षक मनचाहा स्कूल न मिलने के कारण परेशान दिखे। बीएसए ने सभी समायोजित शिक्षकों को एक सप्ताह में ज्वाइन करने के निर्देश दिए हैं। पारस्परिक स्थानांतरण से लाभांवित होने वाले शिक्षकों की सूची में कुल 78 शिक्षक शामिल हैं। जिन्होंने एक दूसरे के स्थान पर जाने को सहमति व्यक्त की थी। वहीं सरप्लस शिक्षकों की सूची में शामिल शिक्षकों को पारस्परिक स्थानांतरण का लाभ नहीं दिया गया। जिन शिक्षकों ने सरप्लस की सूची में नाम होने के बाद भी विकल्प नहीं भरा उन्हें एकल स्कूलों में समायोजित कर दिया गया है। सरप्लस शिक्षकों के समायोजन के दौरान स्कूल में अधिक समय से तैनात शिक्षक को हटाया गया है। उच्च प्राथमिक विद्यालयों में विज्ञान एवं गणित शिक्षकों को छोड़ा गया है।

समायोजित शिक्षक प्राथमिक स्तर- 70

समायोजित शिक्षक उच्च प्राथमिक स्तर- 88

पारस्परिक स्थानान्तरण में लाभान्वित शिक्षक- 78

65 शिक्षकों को करना होगा इंतजार

फिरोजाबाद। शासन से एकल स्थानांतरण का आदेश न होने के कारण एकल आवेदन करने वाले 65 शिक्षकों को अभी और इंतजार करना होगा। जिलास्तरीय कमेटी ने एकल स्थानांतरण के आवेदनों को अलग कर दिया है। इसके चलते इन शिक्षकों को अभी और इंतजार करना होगा।

शासनादेश के अनुरूप किए समायोजन

बीएसए अरविंद कुमार पाठक ने का कहना है कि खंड शिक्षाधिकारियों द्वारा उपलब्ध कराए गए विवरण के आधार पर शिक्षकों का समायोजन एवं पारस्परिक स्थानान्तरण किया गया है। शासनादेश न होने के कारण एकल स्थानांतरण नहीं किया गया है। अंग्रेजी माध्यम में चयनित स्कूलों में अंग्रेजी के शिक्षकों के पहुंचने के कारण हिन्दी के सरप्लस हुए शिक्षकों को हटाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:236 teachers went from here to there in adjustment