अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परदेश से लौटे युवक की गला दबाकर हत्या

परदेश से लौटे युवक की गला दबाकर हत्या

खागा में करीब दो दिन पहले ही परदेश से लौटे एक युवक की गला दबाकर हत्या कर दी गई। घटना सुबह करीब चार बजे की बताई गई। उस समय घर में केवल उसकी पत्नी ही मौजूद थी। पिता को फोन से इसकी सूचना दी गई तो वह मौके पर पहुंचा। सूचना पर पहुंची पुलिस न शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पिता की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पत्नी के मुताबिक हमलावरों ने उसे बंधक बना रखा था।

खागा कोतवाली क्षेत्र के गांव ठाकुरपुर मजरे अजनई निवासी सुरेन्द्र (25) पुत्र गुलाब यादव दो दिन पहले ही परदेश से लौटा था। रविवार की रात पत्नी के साथ घर में सोया था। जबकि उसके पिता किसी काम से बाहर गए हुए थे। पत्नी निधि के अनुसार सोमवार सुबह चार बजे

किसी ने दरवाजा खटखटाया तो सुरेंद्र वहां पहुंचे और दरवाजा खोल दिया। तभी तीन अज्ञात हमलावर धड़धड़ाते हुए अंदर आ गए और उसके पति को दबोच लिया। जबकि उसे बंधक बना लिया। हमलावरों ने उसके पति की गला दबाकर हत्या की और वहां से भाग गए। किसी तरह वह बंधन से मुक्त हुई और शोर मचाया तो गांव के लोग जमा हुए। उसने ससुर को इसकी जानकारी तो वह भी कुछ देर बाद गांव पहुंचे और घटना की जानकारी ली। सूचना पर खागा पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने पिता की तहरीर पर अज्ञात तीन के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

परदेश में रहकर करता था प्राइवेट नौकरी

पिता ने बताया कि उसका बेटा सुरेन्द्र अभी परसों ही ग्वालियर से लौटा था। बाहर रहकर वह प्राईवेट नौकरी करता था। पिता ने बताया कि उसका व उसके परिवार की किसी से भी रंजिश नहीं है। बेटे की हत्या किसने और क्यों कि उसे अभी तक वह समझ नहीं पा रहा है।

पत्नी ही बयां कर सकती है घटना की हकीकत

गांव में हुई सनसनी खेज हत्या को लेकर ग्रामीणों के बीच कई तरह की चर्चा रही। बताया गया कि सुरेंद्र की शादी चार साल पहले हथगाम कस्बे की रहने वाली निधि यादव से हुई थी। इसके बाद सुरेंद्र कमाने के लिए परदेश निकल गया और घर आता-जाता रहा। ऐसे में उसकी गांव में किसी से रंजिश हो, यह प्रश्न कम ही बनता है। हालांकि इस हत्याकांड को आशनाई से जरूर जोड़ा जा रहा था। चर्चा रही कि पत्नी निधि ही इस हत्याकांड की हकीकत पुलिस को बयां कर सकती है

पति को मारा तो क्यों छोड़ा चश्मदीद

सुरेंद्र हत्याकांड को लेकर जो सवाल खड़े हुए है। उसमें सबसे संदिग्ध भूमिका पत्नी की ओर बन रही है। पुलिस फिलहाल दबी जुबान से यह बात कह रही है। सबसे गौर करने वाली बात यह है कि अगर सुरेंद्र की किसी से दुश्मनी होती तो वह सुरेंद्र की हत्या करने के बाद उसकी पत्नी जो मौके पर थी और सबको देख रही तो उसे क्यों जिंदा छोड़ा। जबकि हत्यारे उसे भी ठिकाने लगा सकते थे और इस तरह वह चश्मदीद गवाह खत्म करते। मगर हत्यारों ने ऐसा कुछ भी नहीं किया और केवल हत्या करने के बाद वहां से चले गए। यह मामला किसी के गले से नीचे नहीं उतर रहा है।

घटना का खुलासा कर दिया जाएगा

सीओ खागा सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि हत्या को लेकर जो दृश्य दिखाया गया है। वह बहुत ही संदिग्ध है। घटना की जांच पूरी सतर्कता के साथ चल रही है। घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:youth killed