DA Image
29 नवंबर, 2020|12:46|IST

अगली स्टोरी

रेलवे स्टेशन पर महिलाओं को किया गया जागरूक

default image

मिशन शक्ति के तहत रेलवे स्टेशन पर अभियान चलाया गया। जीआरपी व आरपीएफ की संयुक्त टीम ने प्लेटफार्म सहित सर्कुलेटिंग क्षेत्र व यात्री हाल में मौजूद महिलाओं को हेल्प लाइन नंबर देकर जागरूक किया। इसके साथ ही महिलाओं को स्वाबलंबी बनाए जाने के लिए प्रेरित किया।

एसओ जीआरपी अरविंद कुमार सरोज व पोस्ट कमाण्डर आरपीएफ प्रवीण सिंह के संयुक्त नेतृत्व में अभियान के दौरान रेलवे स्टेशन पर मौजूद महिलाओं को जागरुक किया। कहा कि किसी प्रकार की समस्या होने पर महिला हेल्प लाइन के लिए जारी किए गए नंबरों पर काल करके तुरंत सहायता पाई जा सकती है। लड़का या लड़की में भेद न करने के लिए भी जागरुक किया गया। उन्होंने महिलाओं व युवतियों को जागरुक करते हुए कहा कि यदि किसी विषम परिस्थितियों में फंस जाए तो धैर्य रखते हुए उस स्थित से निपटने के साथ ही हेल्प लाइन नंबर पर सूचना देने के साथ ही आत्मरक्षा के लिए स्वाबलंबी बने। जिसके लिए युवतियों व महिलाओं को दांव पेंच सीखने चाहिए। जागरुक करने के लिए ठहराव वाली ट्रेनों के साथ ही रेलवे स्टेशन पर जानकारी परक पंपलेट भी जवानों द्वारा चस्पा किए गए। इस मौके पर महिला आरक्षियों के साथ ही दोनो थानों के जवान मौजूद रहे।

बेटियों को किया जागरूक

जनकल्याण महासमिति व चाइल्ड हेल्प लाइन के संयुक्त तत्वाधान में बेटियों को जागरुकता का पाठ पढ़ाया गया। मिशन शक्ति के तहत बीपी पाण्डेय ने बालक व बालिकाओं में भेद मिटाने की अपील की इसके साथ ही हेल्प लाइन नम्बर 112, 181, 1090, 1098, 1076 के बारे में जानकारी दी। चाइल्ड हेल्प लाइन के जिला समन्वयक अजय सिंह चौहान ने महिलाओं एवं बेटियों को सुरक्षा के प्रति जागरूक करते हुए मिशन शक्ति के बारे में बताते हुए समानता लाने की अपील की। इस अवसर पर धीरेन्द्र अवस्थी, अनीता द्विवेदी, सुमन, शारदा, माया देवी, प्रिया शुक्ला, आशीष कुमार, सत्यदेव, मुकेश आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Women made aware at railway station