DA Image
30 सितम्बर, 2020|12:50|IST

अगली स्टोरी

यात्रियों का टिकट न होने पर आरक्षण केंद्र में हुआ जमकर हंगामा

यात्रियों का टिकट न होने पर आरक्षण केंद्र में हुआ जमकर हंगामा

जैसे-जैसे प्रवासियों ने महानगरों की ओर रुख करना शुरु कर दिया वैसे ही संख्या बढ़ने से आरक्षित टिकटों की मारामारी शुरु हो गई। जिसका फायदा उठाने के लिए आरक्षण केंद्र में दलाल सक्रिय होने लगे है। दलालों की सेटिंग होने के चलते यात्रियों को तत्काल का टिकट न मिलने की दशा में मंगलवार को आरक्षण केंद्र में यात्रियों ने जमकर हंगामा काटा।

सोमवार की रात से अपना टिकट तत्काल मेंआरक्षित कराए जाने के लिए यात्रियों ने लाइन लगा ली थी। जिसके बाद मंगलवार को लाइन लगाने वाले यात्रियों द्वारा बनाई गई पर्ची के आधार पर जैसे ही टिकटों की बुकिंग का समय शुरु हुआ वैसे ही यहां पर दलाल व उनके गुर्गे यात्रियों को लाइन से हटाकर अपना टिकट आरक्षित कराने लगे। जिसके चलते दलालों व यात्रियों के बीच जमकर कहासुनी शुरु हो गई। देखते ही देखते आरक्षण विभाग में जमकर हंगामा होने लगा। जिसके बाद यहां पर मौजूद लोगों के बीच अफरा तफरी का माहौल व्याप्त हो गया। हालांकि मौके पर पहुंची रेलवे पुलिस ने मामले को शांत कराया।

इस प्रकार बनी थी आरक्षण की पर्ची

मंगलवार को स्लीपर क्लास का तत्काल टिकट कराए जाने के लिए रात से लगाई गई लाइन के लिए पर्ची पर गौर करें तो पहले नंबर पर मो. यासीन, दूसरे नंबर पर जयनारायण चौरसिया, तीसरे नंबर पर पप्पू शेख, चौथे नंबर पर नूर मोहम्मद, पांचवे नंबर पर धनंजय व छठे नंबर पर सुनील कुमार के अलावा एसी के लिए पहले नंबर पर सर्वेश माली तथा दूसरे नंबर पर अजय कुमार के नाम की पर्ची लगी हुई थी।

दलालों द्वारा फाड़ दी जाती यात्रियों की पर्ची

आरक्षण केंद्र में सक्रिय दलालों द्वारा यात्रियों द्वारा लाइन के अनुसार नंबर के लिए लगाई गई पर्चियों को दलाल व उनके गुर्गों द्वारा फाड़कर अपने नाम को पहले नंबर पर करते हुए पर्ची लगा दी जाती है। जिसके कारण यहां आए दिन वाद विवाद होता रहता है। लेकिन दलालों द्वारा अपने गुर्गों के साथ मिलकर यात्रियों के साथ बदसलूकी करते हुए मारपीट तक कर दी जाती है। इनकी संख्या अधिक होने के चलते यात्री विरोध नहीं कर पाते।

दलालों ने धक्का देकर किया पीछे तो नहीं मिला टिकट

भुक्तभोगी जयनारायण

मंगलवार को पर्ची में दूसरे नंबर पर लगे जयनारायण चौरसिया ने बताया कि वह अपनी रिश्तेदारी में आए थे। जहां से परिवार सहित महाराष्ट्र के बोइसर जिला पालघर वापसी करने के लिए सोमवार की रात से लाइन में लग गए थे। लेकिन जैसे की उनका नंबर आया दलालों ने आकर उन्हे धक्का देते हुए पीछे करने के बाद अपना टिकट करा लिया जिससे उन्हे टिकट नहीं मिल सका।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:There was a lot of uproar in the reservation center due to lack of tickets for the passengers