DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  फतेहपुर  ›  प्राइवेट में छूट मंडियों के टैक्स, परेशान हुए आढ़ती
फतेहपुर

प्राइवेट में छूट मंडियों के टैक्स, परेशान हुए आढ़ती

हिन्दुस्तान टीम,फतेहपुरPublished By: Newswrap
Sun, 13 Jun 2021 11:01 PM
प्राइवेट में छूट मंडियों के टैक्स, परेशान हुए आढ़ती

फतेहपुर। संवाददाता

सब्जी व फलों के थोक विक्रेताओं के सामने परेशानियां खड़ी हो रही हैं। मंडियों में स्थान आवंटन के लिए व उसके बाद अदा करने वाले टैक्स के कारण आढ़तियों के सामने परेशानियां खड़ी हो रही हैं। जिससे अब आढ़ती बाहर ही किसानों की उपज खरीदने का ताना बाना बुन रहे हैं। जिससे उन्हे टैक्स भरने की परेशानियों से निजात मिल सके।

सब्जी मंडी व फल मंडी के आढ़तियों को मंडी परिसर में दुकान सजाने के लिए टैक्स भरना पड़ता है। बताते हैं कि मंडी में प्रति आढ़ती डेढ़ प्रतिशत टैक्स देना पड़ता है। इसके साथ ही दुकानों को आवंटित कराने के लिए भी रुपए की अदायगी करनी पड़ती है। जिससे किसानों के सामान का दाम भी आढ़त में आने के बाद बढ़ जाता है। आढ़ती अजय ने बताया कि प्राइवेट में कोई टैक्स नहीं अदा करना पड़ता जबकि आवंटन के लिए डेढ़ प्रतिशत के साथ ही दुकान आवंटित कराने के लिए रुपए की अदायगी करनी पड़ती है। बताते हैं कि आढ़त के बाहर ही किसानों का सामान खरीद कर खरीदारों को वहीं से बेचने पर कोई टैक्स नहीं अदा करना होता। जिससे परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि शासन ने नई व्यवस्था लागू कर दी है जिसके बाद बाहर से ही सामान की खरीद फरोख्त करने का मन बनाया जा रहा है। बताते हैं कि करीब आधा सैकड़ा विभिन्न सब्जियों पर किसी प्रकार का टैक्स नहीं देना पड़ता जिसमें कुछ आमदनी हो जाती है।

संबंधित खबरें