DA Image
28 नवंबर, 2020|10:37|IST

अगली स्टोरी

सिक्स लेन के सुस्त निर्माण से बवाल-ए-जान बना सफर

सिक्स लेन के सुस्त निर्माण से बवाल-ए-जान बना सफर

सिक्स लेन निर्माण एजेंसी पीएनसी इंफ्राटेक और एनएचआई की वादाखिलाफी ने हाइवे पर सफर जोखिमों से भरा है। सुस्त निर्माण के कारण दो दर्जन स्थानों में एलीवेटेड पुलो निर्माण 30 फीसदी भी पूरा नहीं हुआ। यहां बेतरतीब डायवर्जन से जाम की समस्या आम है। नियम विपरीत मनमाने ब्रेकर लोगों की जान ले रहे हैं।

कई पुलों का प्रगति फाउंडेशन तक

दोआबा में 90 किमी हाइवे पर करीब दो दर्जन एलीवेटेड पुलों का निर्माण हो रहा है। जिला प्रशासन के संग बैंठक में एनएचआई के अफसरों पुलों के निर्माण तेज गति से निर्माण कराने का भरोसा दिया था। लेकिन करीब आधा दर्जन पुलों के निर्माण की गति बेहद सुस्त हैं। यहां अभी फाउंडेशन पर काम किया जा रहा है। अन्य पुलों का निर्माण भी औसतन तीस फीसदी पूरा हो सका है। जिससे इस बात की आशंका है कि हाइवे पर मुसीबतें लंबे समय बनी रहेगी।

डायवर्जन बने हॉटस्पाट

हाइवे पर डायवर्जन हादसों का हब बन गए हैं। यहां ट्रैफिक नियमों को पूरी तरह दरकिनार कर दिया गया है। कई स्थानों पर डायवर्जन के संकेतक तक नहीं लगाए गए, जबकि कई स्थानों में दोनों लेन की मध्य की सड़क गिट्टियों उखड़ गई हैं। यह बाइक सवारों के लिए बेहद खतरनाक है। वहीं डायवर्जन के लिए गए पत्थरों में रैडियन पेंट या स्टिकर नहीं होने से वाहन चालक भिड़ जाते है।

जिससे इन स्थानों पर आए दिन सड़क लाल होती है।

ब्रेकर हैं या मौत का कुआं

निर्माण एजेंसी पीएनसी इंफ्राटेक की डावर्जन वाले स्थानों में मनमानी लोगों की जान पर भारी पड़ रही है। इन स्थानों में बनाए गए ब्रेकर की ऊंचाई वाहनों के लिए मौत के कुएं की तरह है। चार इंच से अधिक ऊंचाई और आधी सड़क पर बने ब्रेकर हादसों की संख्या में इजाफा हो रहा है। वहीं एनएचआई अफसरों को डायवर्जन वाले स्थानों में सुचारु ट्रैफिक व्यवस्था के लिए कर्मचारियों की तैनाती का भरोसा दिया था लेकिन यहां एनएचआई का एक भी वर्कर मुस्तैद नहीं है।

आंकड़ों पर एक नजर..

90 किमी है दोआबा मेंं सिक्स लेन का निर्माण प्रगति पर

23 स्थानों पर दोआबा में हाइवे का रुट किया गया डायवर्ट

11 स्थानों पर कमोवेश रोज लगता है भीषण जाम

05 थानों की सीमा से गुजरे हैं हाइवे की लाइफ लाइन

02 दो टोल पर डेली लाखों के राजस्व वसूली

01 मात्र ओवरब्रिज हाइवे पर चौडगरा में है

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sluggish construction of six lane led to a ruckus