DA Image
25 नवंबर, 2020|2:15|IST

अगली स्टोरी

संपर्क रहित जांच प्रणाली से लैस होगा रेलवे

संपर्क रहित जांच प्रणाली से लैस होगा रेलवे

अपने कर्मचारियों को संक्रमण से बचाने के लिए रेलवे संपर्क रहित जांच प्रणाली को लागू कर रहा है। जिसमें एक कोड के माध्यम से यात्रियों का पूरा डेटा सामने आ जाएगा, जिसके लिए रेलवे ने क्यूआर कोड के रूप में प्रदर्शित किए जाने के लिए साफ्टवेयर एप्लीकेशन लांच किया है। जिसके लिए रेलवे चेकिंग स्टाफ को जागरुक करने के साथ प्रशिक्षित करने की तैयारी में जुटा हुआ है। इस सम्पर्क रहित आरक्षण प्रणाली को जल्द ही यहां पर लागू कर दिया जाएगा।

सेंटर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन सिस्टम्स (सीआरआईएस) नें सभी क्षेत्रीय ट्रेनों पर एक साफ्टवेयर एप्लीकेशन लांच किया है, जो यात्री के आरक्षित टिकट विवरण को यूनीक क्यूआर कोड के रूप में एक क्लिक के साथ ही दिखा देगा। इसके लांच होने के बाद कहीं से भी आरक्षित टिकट बुकिंग करने पर यात्री द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर पर एक मैसेज आयेगा। जिसे रेलवे स्टेशन पर प्रवेश या टिकट की जांच के दौरान एसएमएस में उपलब्ध क्यूआर कोड यूआरएल पर क्लिक करेगा और आरक्षित टिकट का क्यूआर कोड यात्री के मोबाइल पर दिखने लगे जाएगा। इसका इस्तेमाल संपर्क में आए बिना ही क्यूआर कोड स्कैनिंग के लिए किया जा सकता है। कोड की स्कैनिंग करते ही यात्री का समस्त विवरण अपडेट हो जाएगा, साथ ही इसके माध्यम से खाली सीटों की स्थिति की जानकारी सही टाइम के आधार पर उपलब्ध होगी। मोबाइल उपकरणों के माध्यम से भी टिकट चेकिंग स्टाफ क्यूआर कोड को स्कैन कर सकेंगे। रेलवे के सभी प्रकार के आरक्षित टिकटों की जानकारी जब यात्रियों को अपने मोबाइल के माध्यम से लाइव मिल सकेगी। इसके लागू होने के पूर्व ही अधिकारियों ने टिकट चेकिंग स्टाफ को प्रशिक्षित और जागरूक करने के निर्देश दिये है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Railway will be equipped with contactless probe system