DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  फतेहपुर  ›  पांटून पुल बैरियर तो लगा पर कम नहीं हो सकी लापरवाही

फतेहपुरपांटून पुल बैरियर तो लगा पर कम नहीं हो सकी लापरवाही

हिन्दुस्तान टीम,फतेहपुरPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:00 AM
पांटून पुल बैरियर तो लगा पर कम नहीं हो सकी लापरवाही

फतेहपुर। संवाददाता

क्षेत्र के किशनपुर-दादों स्थित यमुना नदी पर बने पांटून पुल पर होने वाली दुर्घटनाओं को देखते हुए विभागीय अधिकारियों ने सख्त कदम तो उठाया। लेकिन कर्मचारियों की लापरवाही के चलते अधिकारियों की सख्ती का कोई मायने नजर नहीं आया। दरअसल पांटून पुल पर भारी वाहनों का आवागमन रोकने के लिए दोनो ओर बैरियर लगवाए थे लेकिन कर्मचारियों की लापरवाही के चलते बैरियर महज छलावा ही साबित हो रहे हैं।

दो जिलों को जोड़न वाले पांटून पुल से बांदा सहित जिले के लोगों का आवागमन होता रहता है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग व पांच सैकड़ा से अधिक वाहनों का आवागमन इस पुल से होता है। महज पंदह दिनों के अंदर होने वाली दो दुर्घटनाओं को देखते हुए इस पर वीराम लगाए जाने के लिए विभागीय अधिकारियों ने पुल के दोनों ओर भारी वाहनों का प्रवेश रोके जाने के लिए बैरियर लगवा दिए। लेकिन इसके साथ ही वहां पर कर्मचारियों की ड्यूटी भी निश्चित कर दी गई। लेकिन अधिकारियों के आदेशों पर कर्मचारियों की मनमानी भारी पड़ रही है। जिसके चलते कर्मचारियों के ड्यूटी से नदारद रहने के कारण हादसे होने से इंकार नहीं किया जा सकता साथ ही लगवाए गए बैरियर भी छलावा ही साबित हो रहे हैं।

टूटी बैरीकेडिंग, चादर हुई टेढ़ी

पांटून पुल पर सुरक्षित आवागमन के लिए पुल के दोनों ओर बैरीकेडिंग लगवाई गई थी इसके साथ ही रेत वाले रास्ते पर लोहे की चादरें बिछवाई गई थी। लेकिन पीडब्लूडी की लापरवाही के चलते जहां बैरीकेडिंग जगह-जगह से टूट चुकी है तो वहीं चादरे टेढ़ी हो चुकी है जिससे आए दिन लोही की चादरों के वाहनों की टंकी व टायर से टकराने के कारण वाहन खराब हो जाते के चलते जाम लगता रहता है। जिसे अब तक नहीं सुधरवाया जा सका।

कोट.....

मामले की जांच कर ड्यूटी पर नदारत रहने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई की जाएगी। जिससे होने वाली परेशानियों में कमी लाई जा सके इसके साथ ही चादरों को भी दुरुस्त कराया जाएगा

यूसी विश्वकर्मा,जेई पीड्ल्यूडी

संबंधित खबरें