DA Image
23 जनवरी, 2021|9:33|IST

अगली स्टोरी

अजगव में धनुष भंग होते ही प्रभु श्रीराम के जयकारे

अजगव में धनुष भंग होते ही प्रभु श्रीराम के जयकारे

जहानाबाद। हिन्दुस्तान संवाद

अजगव में आयोजित रामलीला में दूसरे दिन प्रभु श्रीराम में धनुष भंग का आयोजन हुआ। धनुष भंग होते ही मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम के जयकारों के साथ भक्त झूम उठे तो श्री लक्ष्मण तथा परशुराम के बीच चले तीखे संवाद में दर्शक भी भावुक हो गए।

ग्राम पंचायत न्योरी जलालपुर में आयोजित ऐतिहासिक रामलीला में उत्तर भारत के सुविख्यात कलाकारो का संयोजन उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध लक्ष्मण अभिनेता सुरेश त्रिपाठी जन्मस्थली न्योरी जलालपुर के द्वारा किया गया। भगवान श्रीशंकर के विशाल धनुष अजगव का भंग प्रभु श्रीराम के हाथों होने के बाद लक्ष्मण की भूमिका निभा रहे। रविकांत मिश्र तथा परशुराम की भूमिका में पंडित सर्वेश द्विवेदी झलोखर के बीच दूसरे दिन तीखा संवाद चला। वहीं गांव के मुस्लिम समुदाय के बुजुर्ग मोहम्मद रमजान मियां ने बताया कि ऐतिहासिक रामलीला की नींव गांव के ही बैजूदादा, बंसीदादा, नंदकिशोर विश्वकर्मा, इमामबख्श शेख, शिवबालक, सुखदेव, जनार्दन व विख्यात लक्ष्मण अभिनेता सुरेश त्रिपाठी के पिता द्वारा सन 1923 अंग्रेजों के शासनकाल में रखी गई थी और तब से अनवरत रूप से रामलीला होती आ रही है। ग्रामीणों की मानें ते उत्तर प्रदेश की प्रथम ऐतिहासिक रामलीला का आयोजन इस ग्राम पंचायत में होता है जो लगभग शताब्दी छू रहा है। इस दौरान ग्रामीणों के अलावा दूर दराज के भक्तो की भीड़ जुटी रही। इस मौके पर मेला आयोजक रजोल तिवारी के अलावा कोषाध्यक्ष शीलू गुप्ता, रमजान खान, डां रामूपाल, धर्मेन्द्र तिवारी, अंकेश शुक्ला, रज्जू पाण्डेय, दिनेश अवस्थी, पारस तिवारी, मोनू, रोहित अवस्थी सहित सैकड़ों दर्शक मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Lord Shree Ram cheers as soon as the bow is broken in Ajgav