DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गार्ड को बंधक बनाकर लाखों की लूट

गाजीपुर क्षेत्र में पावरग्रिड कार्पोरेशन का काम चल रहा है। जहां बुधवार देर रात गाड़ियों से कुछ लोग पहुंचे और देखरेख कर रहे दो गार्ड को काफी दूरी पर बंधक बनाकर छोड़ दिया। लुटेरों ने रखा सामान ट्रक में भरा और गायब हो गए। सुबह हुई घटना की जानकारी के बाद परियोजना प्रबंधक ने पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया है। भारत सरकार के उपक्रम पावर ग्रिड कार्पोरेशन आफ इण्डिया लिमिटेड की 400 केवी डीसी इलाहाबाद कानपुर परिषण लाइन भाग-1 का निर्माण कार्य चंडीगढ़ की रंजीत सिंह एंड कम्पनी द्वारा किया जा रहा है। लाईन को 30 जून को चालू कराना है इसलिए कंपनी लाईन खींचने का कार्य क्षेत्र के मीरापुर गांव के पास कर रही है। रंजीत सिंह एंड कंपनी खागा के परियोजना प्रबंधक मनोज सिंह वोरा ने बताया कि बुधवार देर शाम काम खत्म होने के बाद सभी कर्मचारी चले गए। टावर संख्या 77बी से 78 के बीच होने वाले काम के लिए यहां सामान रखा था। सामान की देखरेख करने के लिए वहां दो गार्ड तैनात थे। देर रात तीन बोलेरो में सवार होकर कुछ लोग पहुंचे। उन्होंने गार्डों की आंखों में पट्टी बांध और मुंह में कपड़ा ठूंसकर बंधक बनाकर एक किलोमीटर दूर एक बाग में डाल दिया। इसके बाद साथ में लाए ट्रक में पूरा सामान लादकर भाग निकले। बदमाश दोनों गार्डों के मोबाइल भी ले गए। परियोजना प्रबंधक की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कराया है। एसओ गाजीपुर का कहना है कि मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है। प्रारंभिक जांच पड़ताल में घटना संदिग्ध लग रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Loot of millions by guard