DA Image
25 सितम्बर, 2020|3:50|IST

अगली स्टोरी

कालिंदी की रफ्तार से जल्द पार हो सकता है चेतावनी बिंदु

कालिंदी की रफ्तार से जल्द पार हो सकता है चेतावनी बिंदु

बीते तीन दिनों में जिस हिसाब से कालिंदी ने रफ्तार पकड़ी है उस हिसाब से जल्द ही चेतावनी बिंदु के पार होने को अनुमान लगाया जा रहा है। इसके अलावा गंगा नदी अभी भी चेतावनी बिंदु के करीब आधा मीटर ऊपर बह रही है। नदियों का जलस्तर बढ़ने के बाद से जहां कटरी में कटान शुरु हो गई वहीं ग्रामीणों में भी दहशत दिखने लगी है। उधर जलस्तर बढ़ने के बाद से लगातार बाढ़ चौकियां नदियों के जलस्तर पर निगाह लगाए हुए है। पूर्व में गंगा का जलस्तर बढ़ने के बाद अधिकारियों नें औंग क्षेत्र का जायजा भी लिया था। जलस्तर बढ़ने के बाद ग्रामीण सुरक्षित स्थानों की लगातार तलाश कर रहे है।

बरसात के पानी से ही बढ़ा जलस्तर

लगातार हो रही बरसात के पानी से ही गंगा व यमुना के जलस्तर में लगातार इजाफा होता जा रहा है। ऐसे में यदि बांध का पानी छोड़ा जाता है तो स्थित अधिक विकराल होनें से इंकार नहीं किया जा सकता। बताते है कि बांध का पानी छोड़े जानें के बाद नदियों के जलस्तर में अधिक उछाल आने के बाद स्थित अधिक विकराल हो सकती है।

गंगा हुई कम यमुना लेने लगी विकराल रूप

बीते तीन दिनों में जहां गंगा के जलस्तर में कमी आना शुरु हो गई है वहीं यमुना नें तीन दिनों में विकराल रूप धारण करना शुरु कर दिया है। हालांकि अब भी गंगा नदी चेतावनी बिंदु के पार ही बह रही है। जबकि गंगा नदी में बीते तीन दिनों के अंदर 90 मिली मीटर की कमीं आंकी गई है। जबकि यमुना में तीन दिनों के अदंर करीब दो मीटर का उछाल आया है।

...तो ये गांव आ सकते हैं चपेट में

यमुना के जलस्तर में इसी प्रकार से इजाफा होता रहा तो विजयीपुर क्षेत्र के मडौली, गढीवा, मझिगवा, गुरवल, महावतपुर असहट, गढा, नरौली, संगोलीपुर, बरियाछ व खलवा, टिकुरा सहित कई गांव बाढ़ की चपेट में आ सकते है। जिसके चलते यमुना में बढ़ते जलस्तर को देखकर इन गांव के लोग खासे सतर्क दिखाई देने लगे है।

इनसेट

तीन दिनों में कुछ यूं घटा-बढ़ा नदियों का जलस्तर

नदी खतरे का निशान चेतावनी बिंदु मंगलवार सोमवार रविवार

गंगा 100.860 मीटर 99.860 100.190 100.240 100.280

यमुना 100.00 मीटर 99.00 91.390 90.840 89.650

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kalindi speed may exceed warning point soon