DA Image
24 जनवरी, 2021|4:32|IST

अगली स्टोरी

जरा सम्भलकर कराएं डाटा एंट्री, पास बनने के बाद नहीं होगा सुधार

जरा सम्भलकर कराएं डाटा एंट्री, पास बनने के बाद नहीं होगा सुधार

फतेहपुर। हिन्दुस्तान संवाद

रेलवे ने अपने कर्मचारियों को सुविधा देने के उद्देश्य से ई-पास जारी करने का निर्णय लिया है। जिसे बनवाने के लिए कर्मचारियों को विभागीय अधिकारियों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। इसे बनवाए जाने के लिए घर बैठे ही मोबाइल के जरिए ऑनलाइन पास जारी किए जाएंगे। इसके साथ ही पास के लिए एक बार अपना डाटा इंट्री करने के बाद पास बनने पर इसमें छेड़खानी भी नही की जा सकेगी, अब तक रेलवे अपने कर्मचारियों के लिए मैनुअल पास जारी करता था। लेकिन अब ई-पास जारी किए जाने के बाद इसमें होने वाली छेड़खानी भी नहीं की जा सकेगी। पूर्व में कागज वाले पास कर्मचारियों को उपलब्ध कराए जाते रहे है, लेकिन अब प्रिंटेड पास जारी किए जाएंगे जिसके लिए कर्मचारियों को संभलकर अपने डाटा की इंट्री करनी होगी।

कर्मचारियों को इस तरह करना होगा आवेदन

ई-पास के लिए कर्मचारियों को अपने मोबाइल पर आईडी ओपेन कर पास सेट लिस्ट पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद कर्मचारी अपने पास के लिए आवेदन कर सकेंगे। जिसके बाद पास क्लर्क द्वारा मैनुअल पास इंट्री की जाएगी जिसके बाद कर्न्फमेशन खुलेगा जिसके बाद ओके लिखने के बाद फार्म ओपेन होगा। जिसे सम्मिट करने के बाद पास जारी होगा।

घर बैठे की कर सकेंगे अपना रिजर्वेशन

मैनुअल पास होने के चलते अभी रेल कर्मियों को रिजर्वेशन कराने के लिए आरक्षण विंडो पर जाना पड़ता था। लेकिन ई-पास जारी होने के बाद अब रेल कर्मचारी भी आम आदमी की तरह ही घर बैठकर अपना टिकट ऑनलाइन बुक करा सकते है। जिससे कर्मचारियों के साथ ही आरक्षण क्लर्क को भी राहत मिलेगी। इसके साथ ही इसमें पारदर्शिता भी आएगी।

असुविधाओं को देखते हुए यह निर्णय लिया गया

रेल कर्मचारियों को होने वाली असुविधाओं को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। जिसके बाद कर्मचारियों को सहूलियत मिल सकेगी साथ ही कागज वाले पास से टिकट बुक कराने से भी छुटकारा मिलेगा।

आरके सिंह प्रभारी स्टेशन अधीक्षक

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Just do the data entry it will not improve after passing