DA Image
23 जनवरी, 2021|7:41|IST

अगली स्टोरी

नए साल में मिला मां बनने का सौभाग्य

नए साल में मिला मां बनने का सौभाग्य

फतेहपुर। हिन्दुस्तान संवाद

वैसे तो हर नए वर्ष के पहले दिन को यादगार बनाने के लिए लोग तरह-तरह के हथकंडे अपनाते है। लेकिन इस दिन यदि किसी नारी शक्ति को मां बनने का सौभाग्य मिलता है तो जीवन भर के लिए यादगार बन जाता है। शुक्रवार को वर्ष 2021 के पहले दिन जिला अस्पताल में कई नारी शक्तियों को यह सौभाग्य प्राप्त हुआ तो उनकी खुशियों में चार चांद लग गए। यहां पर आधा दर्जन महिलाओ ने साल के पहले दिन लक्ष्मी रूपी कन्याओं को जन्म दिया इनमें से कुछ को तो पहली बार मां बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ था।

एक ओर लोग नए साल का इस्तकबाल करने के लिए अपने तरीके से जश्न में डूबे हुए थे। लेकिन जिला अस्पताल में भर्ती महिलाओं को जीवन भर के लिए नए साल की सौगात मिल गई। यहां भर्ती सीता पत्नी महेंद्र निवासी लोधन का पुरवा, शबीना बेगम पत्नी अख्तर हुसेन निवासी बाकरगंज, सोनी देवी पत्नी सुनील कुमार निवासी गाजीपुर, शिवानी सिंह पत्नी अजीत सिंह निवासी कोर्रा कनक व किरन देवी पत्नी प्रमोद कुमार निवासी करसूमा तथा रेनू देवी पत्नी दीपक तिवारी निवासी सामियाना ने कन्या रूपी लक्ष्मी को जन्म देकर नए साल की खुशियों में चार चांद लगा दिए। पहली बार मां बनने वाली किरन देवी ने बताया कि उनके पति सात बहनों के बीच में अकेले भाई है, जिसके चलते परिवार के लोगों को पुत्र की चाह थी लेकिन उन्हे पुत्री के रूप में मिली लक्ष्मी ने मां बनने का सौभाग्य दिया है। बताया कि उनके लिए लड़का लडकी दोनो ऐ समान है। इसी प्रकार दूसरी कन्या को जन्म देने वाली शिवानी ने बताया कि उनके पहले से डेढ साल की एक पुत्री है लेकिन दूसरी पुत्री होने के बाद उन्हे इसका कोई मलाल नहीं है, बताया कि लड़कियां भी किसी मामले में लड़को से कम नहीं होती उनका कहना था कि अपनी पुत्रियों को पढ़ाने लिखाने के साथ ही हर क्षेत्र में निपुण बनाएंगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Happy to be a mother in new year