DA Image
25 सितम्बर, 2020|2:45|IST

अगली स्टोरी

नम आंखों के बीच दी गजानन को विदाई

नम आंखों के बीच दी गजानन को विदाई

प्रतिवर्ष की भांति होने वाली गणेश पूजा व विसर्जन को कोरोना काल में वृहद रूप नहीं दिया गया। जिसके बाद कई वर्षों के लगातार रामगंज पक्का तालाब में स्थापित होने वाली प्रतिमा के स्थान पर घर में स्थापित प्रतिमा का सोमवार को नम आंखों के बीच भिटौरा के बलखंडी घाट पर विसर्जन कर दिया गया।

रामगंज पक्का तालाब स्थित नवयुवक कमेटी के अध्यक्ष अमन गुप्ता ने बताया कि बीते कई वर्षों से लगातार गणपति की पूजा कराई जा रही थी। लेकिन कोरोना के संक्रमण के चलते सार्वजनिक कार्यक्रम पर रोक होने के चलते घर पर ही गजानन की पूजा-अर्चना की जा रही थी। जिसके बाद सोमवार को दसवें दिन गजानन का विसर्जन सादगी पूर्ण तरीके से कर दिया गया। इस दौरान गजानन के भक्त गणपति बप्पा मोरया मंगल मूर्ति मोरया के जयघोष करते हुए बलखंडी घाट पहुंचे जहां प्रतिमा का नम आंखों के बीच विसर्जन कर दिया गया। इसके पूर्व गजानन से कोरोना की समाप्ति की प्रार्थना करते हुए सभी संक्रमितों के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए यज्ञ का भी आयोजन किया गया। इस अवसर पर श्याम किशोर गुप्ता, दिनेश चंद्र गुप्ता, आदित्य गुप्ता, शुभम, यश, अमन, रमेश, अशोका गुप्ता, सुमन देवी, चेष्ठा(बेटू), आर्यमा(किट्टू), रुची वर्मा, साक्षी आदि गजानन के भक्त मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farewell to Gajanan amidst moist eyes