DA Image
27 अक्तूबर, 2020|12:20|IST

अगली स्टोरी

कांग्रेसियों ने पुलिस की मौजूदगी में सीएम का पुतला फूंका

default image

फतेहपुर। हिन्दुस्तान संवादकांग्रेस के शीर्षस्थ नेता के साथ प्रदर्शन के दौरान किए गए अमानवीय व्यवहार से नाराज कांग्रेसियों ने गुरुवार को सीएम का पुतला पुलिस के सामने ही आग के हवाले कर दिया। पुतला दहन करने से रोकने पर कांग्रेसियों की पुलिस के साथ जमकर गुत्थम गुत्थी हुई। सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए पुतला दहन के बाद पार्टीजनों ने कैंडल मार्च निकालकर हाथरस काण्ड के आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग की। राहुल गांधी के साथ प्रदर्शन के दौरान पुलिस द्वारा की गई धक्का मुक्की पर कांग्रेसियों का गुस्सा फूट पड़ा। जिसके चलते गुरुवार को पूर्व निर्धारित कैंडल मार्च से पूर्व कांग्रेसियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। उपाध्यक्ष शिवाकांत तिवारी ने कहा कि प्रदेश के मुखिया के इशारे पर पुलिस ने उनके नेता के साथ अमानवीय व्यवहार किया था। शहर उपाध्यक्ष मोहसिन खान ने कहा कि प्रदेश में भाजपा का दमनात्मक रवैया लगातार बना हुआ है। जिसके चलते जो भी सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करता है उसे या तो जेल में डाल दिया जाता है या फिर उसकी आवाज को दबाने के लिए तमाम मुकदमे लाद दिए जाते हैं। जिसके बाद कांग्रेसियों के प्रदर्शन को देखते हुए सीओ सिटी भारी पुलिस बल के साथ मोर्चा संभाले हुए थे। इसके बाद भी कांग्रेसियों ने पुलिस की आंखो में धूल झोंकते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला आग के हवाले कर दिया। इस बीच पुलिस व कांग्रेस के बीच जमकर छीना झपटी चलती रही। पुतला दहन के बाद पार्टीजनों ने पार्टी कार्यालय से कैंडल मार्च निकालकर हाथरस की बेटी के साथ अमानवीय कृत्य करने वालों को फांसी की सजा की मांग करने के साथ ही फरार एक अन्य आरोपी की तलाश की मांग की। हालांकि यहां भी पुलिस के साथ नोकझोंक होती रही। इस मौके पर पंकज गौतम, बबलू कालिया, राजीव लोचन निषाद, उदित अवस्थी, वीरेंद्र चौहान, हाफिज अहमद, जफर अली, जावेद आलम, आकाश, शहबान, अभिषेक, अनुराग, अभय, राहुल, अंकुर, प्रशांत, हसमत आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Congressmen burn CM 39 s effigy in presence of police