DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › फतेहपुर › गोल्डन कार्ड की रफ्तार बढ़ाने को गांवों में लगेंगे कैम्प
फतेहपुर

गोल्डन कार्ड की रफ्तार बढ़ाने को गांवों में लगेंगे कैम्प

हिन्दुस्तान टीम,फतेहपुरPublished By: Newswrap
Wed, 28 Jul 2021 05:01 AM
गोल्डन कार्ड की रफ्तार बढ़ाने को गांवों में लगेंगे कैम्प

फतेहपुर। संवाददाता

सूबे में 70वें स्थान में ठिठकी आयुष्मान योजना को रफ्तार देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली हैा। विभाग 26 जुलाई से नौ अगस्त तक आयुष्मान पखवाड़े का आयोजन करेगा। जिसके तहत आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के तहत आयुष्मान कार्ड विहीन परिवारों के आयुष्मान कार्ड बनाए जाएंगे। मंगलवार को विकास भवन सभागार में डीएम अपूर्वा दुबे व सीएमओ ने मीडिया को जानकारी दी गई।

सीएमओ डा.राजेन्द्र सिंह ने बताया कि पखवाड़े के तहत लक्षित परिवारों को योजना के प्रति जागरूक करते हुए आयुष्मान कार्ड कैम्प तक लाने व अधिकतम पात्र लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड बनवाने के हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। इस अभियान में ऐसे परिवारों को लक्षित किया जाएगा, जिन परिवारों के एक भी सदस्य का आयुष्मान कार्ड नहीं बना है। इसके लिए ग्राम प्रधान व आशाओं को 2011 की सर्वेक्षण सूची दे दी गई है। जिनमें लाभार्थी नाम देखकर अपने आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं। लाभार्थी को राशन कार्ड, आधार कार्ड लाना अनिवार्य होगा। पखवाड़े के तहत सभी आयुष्मान कार्ड निशुल्क बनाया जाएंगे। बताया कि आयुष्मान कार्ड विहीन परिवारों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराने के लिए 26 जुलाई से अभियान शुरू हो रहा है जो नौ अगस्त तक चलेगा। कैम्प सार्वजनिक स्थल जैसे पंचायत भवन, हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर, आंगनबाड़ी केन्द्र, प्राथमिक विद्यालय पर लगाए जाएंगे।

लाभार्थियों की सूची होगी चस्पा

लाभार्थी की ग्रामवार सूची संबधित ग्राम सभा के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की जाएगी। कैंप स्थल व सार्वजनिक स्थलों पर बैनर लगाकर अभियान का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। कैंप की निर्धारित तिथि से पूर्व संबंधित आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा गांव के लाभार्थी परिवारों में आयुष्मान कार्ड के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।

2.12 लाख बन चुके हैं कार्ड

योजना के तहत अब तक जनपद में 2.12 लाख से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। जनपद में 2.17 लाख से अधिक लाभार्थी परिवार हैं। सीएमओ ने बताया आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान से आच्छादित परिवारों को प्रतिवर्ष प्रति परिवार पांच लाख रुपए तक के निशुल्क उपचार की सुविधा अनुमन्य है। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी पात्र लाभार्थी के पास आयुष्मान कार्ड होना अनिवार्य है।

संबंधित खबरें