DA Image
14 अगस्त, 2020|11:18|IST

अगली स्टोरी

28 साल से रोजा रख रहीं हैं आशा

28 साल से रोजा रख रहीं हैं आशा

ईश्वर एक है और जो भी व्यक्ति आस्था रखता है उसकी मनोकामना पूरी होती हैं। जिसमें जातिञधर्म का विशेष महत्व नहीं होता है। क्षेत्र की एक हिन्दू महिला बीते 28 वर्षों से रोजा रख कर इबादत कर रही हैं।

कस्बा निवासी आशा देवी जायसवाल पत्नी रामदेव जयसवाल को हर बार रमजान माह का बेसब्री से इंतजार रहता है। इन्होंने बताया कि बहुत सालों तक निसंतान होने पर हर जगह औलाद के लिए मत्था टेक चुकी थीं। मन में विचार आया कि क्यों ना एक बार रोजे रखे जाएं। मन्नत के हिसाब से सबसे पहले 11 रोजे रखे। कुदरत का करिश्मा हुआ और दूसरे साल पहली संतान के रूप में एक लड़की पैदा हुई। उसके बाद दो पुत्रों की प्राप्ति भी हुई। आशा देवी बताती हैं कि इससे विश्वास और अटूट हो गया। अब वह 30 के 30 पूरे रोजे रहती हैं और कहती हैं ईश्वर के नाम अनेक हैं पर ईश्वर एक है। पूजा चाहे जिसकी करो, फल सबसे मिलता है। इनका कहना है कि जब तक जीवित रहूंगी तब तक पूरे रोजे रहेंगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Asha has been fasting for 28 years