DA Image
23 सितम्बर, 2020|2:11|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संक्रमण की भेंट चढ़ा पशु मेला एवं दंगल का आयोजन

कोरोना संक्रमण की भेंट चढ़ा पशु मेला एवं दंगल का आयोजन

बीते छह वर्षो से क्षेत्र के पटैतापुर गांव में पूर्व ब्लाक प्रमुख हसवां इंद्रसेन सिंह यादव द्वारा आयोजित पशु मेला एवं दंगल का आयोजन इस बार नहीं लगेगा। कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए आयोजन पर ग्रहण लग रहा है।

पशु मेला की शुरुआत प्रत्येक वर्ष निर्धारित एक सितंबर से 15 सितंबर तक चलता रहा है। जिसमें जिला समेत दूसरे राज्यों हरियाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश आदि से भी अधिक संख्या में पशु व्यापारी आते रहे हैं। जिसमें गाय, भैंस , घोड़ा , भेड़ आदि पशुओं की खरीदे बेंचे जाते थे। मेला में रुके हुए सभी व्यापारियों की जानवरों के भूसा पानी आदि की व्यवस्था तथा व्यापारियों के रुकने की व्यवस्था पूर्व ब्लाक प्रमुख द्वारा ही निशुल्क की जाती थी। इसके अलावा दंगल और आल्हा का भी आयोजन होता था। जिसे देखने एवं सुनने के लिए हजारों की संख्या में भीड़ जुटती थी। पूर्व ब्लाक प्रमुख ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण काल की वजह से इस वर्ष मेला का आयोजन नहीं कराया गया है। जिससे भीड़ इकट्ठा न होने पाए और संक्रमण से सभी सुरक्षित रह सकें। व्यापारियों को कई माध्यमों द्वारा सूचना दे दी गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Animal fair and riot organized for corona infection