DA Image
17 सितम्बर, 2020|5:10|IST

अगली स्टोरी

नसेनिया और चांदपुर में मिले 56 मरीज

नसेनिया और चांदपुर में मिले 56 मरीज

संक्रामक बीमारी हो या मौसमी बीमारी अमौली ब्लाक के तमाम गांवों में हावी है जो खत्म होती नजर नहीं आ रही है। लगातार बड़ी संख्या में मरीज सामने आ रहे हैं। इनमें वायरल बुखार के साथ-साथ मौसमी बीमारियों के भी हैं। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की दो टीमें अलग-अलग दो गांवों में पहुंचीं और शिविर लगाकर मरीजों की जांच की।

मौसम परिवर्तन और मच्छरों का प्रकोप क्षेत्र में इस कदर हावी है कि मच्छरजनित बीमारियां लोगों पर हावी हो चुकी हैं। अमौली ब्लाक के करीब दर्जन भर गांव जहां मौजूदा समय में डेंगू के साथ-साथ मलेरिया भी पैर पसारे हुए है। बुखार की चपेट में आ रहे तमाम लोग स्थानीय अस्पतालों में उपचार करवा रहे हैं तो कई गांव के झोलाछाप डाक्टरों के भरोसे हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की कई टीमें क्षेत्र में अलग-अलग गांवों में पहुंचकर शिविर लगा रही हैं और मरीजों को राहत देने का प्रयास कर रही हैं। गुरुवार को नसेनिया और चांदपुर गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीमें पहुंचीं और शिविर लगातार जांच की। नसेनिया में पहुंचे डा. संदीप, अजय और धनन्जय ने 22 मरीजों की जांच की। जिनमें दो वायरल फीवर के निकले। इसी तरह चांदपुर गांव में डा. धर्मेन्द्र, डा. नवीन और राजबहादुर की टीम पहुंची। टीम ने गांव के 34 मरीजों को देखा जिसमें दो वायरल बुखार और 19 अन्य मौसमी बीमारियों के निकले। नसेनिया के तीन गंभीर मरीजों की मलेरिया जांच की गई सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:56 patients found in Naseniya and Chandpur