Wednesday, January 26, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशवाह रे एसओजी. . .पकड़े गए लोगों को छोड़ने को मांगे एक लाख

वाह रे एसओजी. . .पकड़े गए लोगों को छोड़ने को मांगे एक लाख

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजNewswrap
Sun, 05 Dec 2021 11:20 PM
वाह रे एसओजी. . .पकड़े गए लोगों को छोड़ने को मांगे एक लाख

फर्रुखाबाद। संवाददाता

पुलिस की स्वच्छ कार्यप्रणाली के लिए भले ही पुलिस महानिदेशक बेहद गंभीर हैं मगर यहां की एसओजी के लिए किसी के भी आदेश मायने नहीं रखते। जब चाहा जिसे पकड़ लिया और छोड़ दिया। इस प्रकार की कार्यशैली से पुलिस महकमे की छवि खराब हो रही है। एक मामले में एसओजी ने कमालगंज क्षेत्र से छह लोगों को उठा लिया था। अब पकड़े गए लोगो को छोड़ने के नाम पर मोल भाव किया जा रहा है।

परिजनों का आरोप है कि पकड़े गए लोगों को छोड़ने के लिए एक लाख रुपया मांगे गए हंै। पुलिस अधीक्षक की सख्ती के बाद भी एसओजी अपनी मनमानी पर उतारू है। पिछले दिनों ही पुलिस की यह करतूत सुर्खियों में बनी थी। जनसेवा केद्र के संचालक रंजीत को दुकान से उठाकर दो लाख रुपये की मांग की गयी थी। जब इस मामले में सत्तारुढ़ दल के विधायक ने हस्तक्षेप किया तो इसके बाद पुलिस के हाथ पांव फूल गए और आनन फानन में रिपोर्ट दर्ज की गयी। अभी जांच पर जांच ही चल रही है। बहीं दूसरा एक और मामला पुलिस के लिए गले की हड्डी बन रहा है। कमालगंज एक क्षेत्र के गांव से पुलिस ने छह लोगों को उठा लिया। इसमें कुछ लोग एसओजी कार्यालय तो कुछ लोग कमालगंज थाने में बैठाए गए हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस ने गौकशी में वांछितों की तलाश में छापा मारा था। इसमें एक वांछित कमालगंज क्षेत्र में अपनी रिश्तेदारी में रह रहा था। पुलिस ने यहां पर एक नाबालिग सम्ऋेत छह लोगों को उठा लिया। रात 11.30 बजे जब पुलिस और एसओजी पहुंची तो परिजन घबरा गए। परिवार के लोगों ने बताया कि वे लोग बहुत गरीब हैं और आटो चलाकर गुजर बसर करते हैं। पुलिस वालों ने पकड़े गए एक युवक के पिता को बुलवाया और बातचीत की। पकड़े गए युवक के भाई और चाचा भी साथ गए थे। एसओजी ने एक फरार मुल्जिम को पकड़कर लाने का दबाव बनाया। वरना एक लाख रुपया लाने को कह दिया। जब उसने गरीबी का वास्ता दिया तो कहा गया कि चरस लगाकर जेल भेज दिया जाएगा। इस संबंध में एसओजी प्रभारी बलराज भाटी ने बताया कि किसी को भी टीम ने नहीं पकड़ा है। उन्होंने पकड़े गए युवकों को लेकर अनभिज्ञता जताई वहीं कमालगंज और कंपिल एसओ ने भी यही बताया कि उनके क्षेत्र से कोई भी नहीं पकड़ा गया है।

epaper

संबंधित खबरें