Women's Opposition on Do not Sit in OPD - ओपीडी में डॉक्टर के न बैठने पर महिलाओं का हंगामा DA Image
11 दिसंबर, 2019|10:35|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओपीडी में डॉक्टर के न बैठने पर महिलाओं का हंगामा

ओपीडी में डॉक्टर के न बैठने पर महिलाओं का हंगामा

लोहिया महिला अस्पताल की व्यवस्थाएं सुधर नहीं रही हैं। सोमवार को ओपीडी में महिला डाक्टर के न बैठने पर परेशान होकर इलाज को पहुंची महिलाओं ने हंगामा खड़ा कर दिया। आरोप लगाया कि जानबूझकर इलाज नहीं करवाया जा रहा है। काफी देर तक हंगामा करने के बाद महिलाएं बगैर दवा लिए यहां से चली गईं। सोमवार सुबह ओपीडी में महिला डॉक्टर श्वेता तिवारी की डयूटी थी। एक सैकड़ा से अधिक महिलाएं दोपहर 12 बजे तक यहां इस इंतजार में थीं कि डाक्टर आ जाएं तो वह उन्हें दिखाकर दवा लें। हालांकि एक प्रशिक्षु डाक्टर और स्टाफ नर्स यहां मरीजों को देख रही थी। लेकिन बड़ी संख्या में महिलाएं उन्हें दिखाने से हाथ खींच रही थीं। महिलाआं को जब जानकारी हुई कि डाक्टर श्वेता तिवारी नहीं आएंगी तो इस पर महिलाओं ने यहां हंगामा खड़ा कर दिया। कहा कि जानबूझकर परेशान कराया जा रहा है। सुबह 9 बजे से वह लाइन में लगी हैं। कोई यह भी बताने को तैयार नहीं है कि आखिर कौन डॉक्टर ओपीडी में बैठेगा। प्रशिक्षु डाक्टर को कैसे दिखा लें। हैवतपुर गढ़िया निवासी रंजना, बूरा वाली गली निवासी अफरीन, सातनपुर निवासी अनीता, असगर रोड निवासी हुमा आदि महिलाओं ने बताया कि यदि सुबह ही ठीक से जानकारी दे दी जाती तो वह क्यों यहां इंतजार करती। काफी देर तक परेशान होने के बाद महिलाएं यहां से चली गईं।

डॉक्टर गैर हाजिर

ओपीडी में डॉक्टर श्वेता तिवारी के न बैठने पर अव्यवस्था हावी हुईऔर हंगामा शुरू हुआ तो ऐसे में प्रभारी सीएमएस डॉक्टर कैलाश भी यहां पहुंचे और महिलाओं को समझाने का प्रयास किया। सीएमएस ने बताया कि डॉक्टर श्वेता को गैर हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि डॉक्टर के बोस अवकाश पर हैं। इसलिए दिक्कत आ रही है जबकि दूसरी डॉक्टर नमिता दास इमरजेंसी डयूटी कर रही हैं। प्रयास किया जा रहा है कि महिलाओं का ठीक से इलाज हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Women's Opposition on Do not Sit in OPD