ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअस्पताल में महिला की मौत, इलाज में लापरवाही पर हंगामा

अस्पताल में महिला की मौत, इलाज में लापरवाही पर हंगामा

फर्रुखाबाद, संवाददाता। लोहिया अस्पताल में लापरवाही की सारी हदें पार होती जा रही हैं।...

अस्पताल में महिला की मौत, इलाज में लापरवाही पर हंगामा
हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजWed, 15 May 2024 12:15 AM
ऐप पर पढ़ें

फर्रुखाबाद, संवाददाता।

लोहिया अस्पताल में लापरवाही की सारी हदें पार होती जा रही हैं। आए दिन स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर जो उंगली उठती है वह रुकने का नाम नही ले रही। सोमवार को अस्पताल में एक महिला की मौत हो गई। इस पर परिजन बिफर पड़े और इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया। बोले भर्ती करने के बाद डॉक्टर देखने तक नहीं आए। परिजनों के गुस्से को देखते हुए इमरजेंसी में मौजूद डॉक्टर ने अपने कक्ष को अंदर से बंद कर दिया। उन्होंने पूरे मामले की जानकारी सीएमएस को दी। परिजन महिला का शव घर लेकर चले गए। कादरीगेट थाने के अमेठी जदीद गांव निवासी विनोद कुमार के घर उनकी विवाहिता बहन 50 वर्षीय मंजूदेवी आई हुई थीं। मंजू की ससुराल बदायूं जिले के उसैहत थाना क्षेत्र के कटरा शहादतगंज में है। सोमवार को मंजू की घर पर हालत बिगड़ी। उन्हें सांस लेेने में दिक्कत थी। इस पर परिजन उन्हें इलाज के लिए दोपहर 12 बजे के आसपास लोहिया अस्पताल की इमरजेंसी लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर ने देखा और भर्ती कर लिया। रात 8.45 बजे के बाद मंजू की हालत बिगड़ी। इमरजेंसी में डॉक्टर वैभव थे। परिजनों ने उन्हें जानकारी दी तो वह पहुंचे। आक्सीजन लगाया। महिला को बचाने का प्रयास किया लेकिन बचा नहीं पाए। महिला की मौत हो गई। यह जानकारी जब महिला के परिजनों को हुई तो बड़ी संख्या में लोग अस्पताल पहुंच गए। इमरजेंसी में परिजनों ने हंगामा खड़ा कर दिया। कहाकि दोपहर में बहन को भर्ती कर लिया गया था। इसके बाद कोई डॉक्टर देखने तक नहीं आया। केवल नर्स बहन की देखभाल को थी। परिजनों के हंगामे को देखते हुए डॉक्टर ने अपना कक्ष अंदर से बंद कर लिया। उन्होंने पूरे मामले की जानकारी सीएमएस को दी। बाद में परिजन रोते बिलखते मंजू का शव घर लेकर चले गए। भाई विनोद का कहना है कि जब बहन को खून की जरूरत थी तो क्यों नहीं चढ़ाया गया। बहन के इलाज मे ंलापरवाही हुई इसी के चलते बहन की मौत हुई है। इस मामले में वह बड़े अधिकारियों से शिकायत करेंगे जिससे कि किसी दूसरे के साथ इस तरह की घटना न हो।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें