DA Image
25 सितम्बर, 2020|12:42|IST

अगली स्टोरी

एंबुलेंस में ही हुआ महिला को प्रसव, जच्चा बच्चा स्वस्थ

default image

ऐसा नहीं है कि स्वास्थ्य विभाग के सभी कर्मचारी अपनी जिम्मेदारियों के प्रति विमुख हों। स्वास्थ्य विभाग के एंबुलेंस कर्मियों ने बुधवार को जौ हौसला दिखाया वह काबिले तारीफ है। 14 मिनट में ही गर्भवती के गांव में स्वास्थ्य टीम पहुंच गई। हालांकि एंबुलेंस में ही महिला को प्रसव पीड़ा हुई और वाहन में ही प्रसव हो गया।

हिसामपुर गांव के मनोज की पत्नी ममता को सुबह प्रसव पीड़ा हुई जिस पर 9.30 बजे 102 एंबुलेंस पर फोन किया गया। ड्राइवर दुर्गेश अपने साथी कर्मचारी के साथ जहानगंज के हिसामपुर में 14 मिनट में ही पहुंच गया जिस समय ममता को गाड़ी में बैठाया तो उसकी हालत बेहद खराब थी। याकूतगंज के पास ही हालत बिगड़ने के बाद गाड़ी में ही प्रसव हो गया। एंबुलेंस में आशा भी साथ थी। गाड़ी को मौके पर खड़ा करा लिया गया। इसके बाद नजदीकी सब सेंटर बलीपुर में ममता को भर्ती करवाया गया। यहां पर महिला और उसका नवजात स्वस्थ हैं। गांव के लोगों ने बताया कि यदि एंबुलेंस पहुंचने में थोड़ी देर भी होती तो इसमें खतरा पैदा हो सकता था। ग्रामीणों ने एंबुलेंस कर्मियों के कार्य की सराहना की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Woman delivered in ambulance mother 39 s baby healthy