DA Image
28 सितम्बर, 2020|10:03|IST

अगली स्टोरी

गांवो को घेरे है सैलाव, मुश्किल में जिंदगी

गांवो को घेरे है सैलाव, मुश्किल में  जिंदगी

जिले में गंगा नदी के जलस्तर में भले ही थोड़ी कमीं आई है। मगर रामगंगा नदी अब रौद्र रूप ले रही है। नदियों के उफान से गांव के अंदर का पानी उतर गया तो अभी तक सैलाव ने गांवों को चारो तरफ से घेर रखा है। इससे पीड़ितों की मुसीबत

कम नहीं हो रही है। रामगंगा के जलस्तर से लोग दहशत में आ गए हैं। तटीय इलाकों में लोगों को अभी तक आवागमन की भी सहूलियत नहीं हो पाई। सोमवार की शाम गंगा नदी का जलस्तर 136.80 मीटर पर दर्ज किया गया। जो कि चेतावनी बिंदु से 20 सेंटीमीटर ऊपर है। रामगंगा नदी का जलस्तर 136.10 मीटर पर बढ़कर पहुंच गया। जो कि चेतावनी बिंदु से सिर्फ 50 सेंटीमीटर ही दूर है। गंगानदी में नरौरा बांध से 73342, हरिद्वार से 49948, बिजनौर से 40267 क्यूसेक पानी पास किया गया है। जबकि रामगंगा नदी में हरेली, खो और रामनगर बैराज से 15620 और कालागढ़ बैराज से 6011 क्यूसेक पानी पास किया गया है। गंगापार के पूर्वी और पश्चिमी क्षेत्र में रामगंगा नदी किनारे बसे लोग किस कदर दहशत में हैं कि उनको रात में भी नींद नहीं आ रही है। चिंता इसलिए भी है क्योंकि रामगंगा नदी का जलस्तर पिछले तीन दिनों से लगातार बढ़ रहा है। यदि चेतावनी बिंदु के पास जलस्तर आया तो बर्बादी का दौर शुरू हो जाएगा। गांव के कई लोगों ने अपने घरों से सामान समेटना शुरू कर दिया है। कोलासोता, महोलिया, हरपालपुर, रेंगापुर, भटौली, अलादादपुर अदि गांव के लोग दहशत में जी रहे हैं। वहीं गंगानदी इसी क्षेत्र के कई गांव में कहर बरपा रही हैं। जलस्तर कम होने के बाद भाी कटान कम नहंी हो रहा है। कटरी क्षेत्र के कई गांव में सड़कें तक बर्बाद हो गई हैं। शमसाबाद तराई क्षेत्र के कईगांव में इस कदर हाहाकार मचा है कि लोग घर में ही परेशान हैं। घर से बाहर निकलने की स्थिति नहीं है क्योंकि चारो तरफ से सैलाव का पानी गांव को घेरे है। कमथरी, भगवानपुर, पैलानी दक्षिण, कैलियाई, जटपुरा, कटरी तौफीक आदि गांव के चारो तरफ पानी भरा है इससे गांव के बाहर निकलने की भी स्थिति नहीं है। जो स्थिति चारो तरफ दिखाई पड़ रही है उससे ग्रामीणों को लंबे समय तक दुश्वारियों से जूझना पडेग़ा। समेचीपुर चितार, इस्लामनगर में अभी भी पुलिया से पानी चल रहा है। हालांकि काफी कम होने के बाद आवागमन होने लगा है। लोग जान की परवाह न करते हुए इधर उधर निकल रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Villagers are surrounded by peace life in difficulty