DA Image
14 अगस्त, 2020|8:47|IST

अगली स्टोरी

फर्रुखाबाद में लॉकडाउन के बीच ताबड़तोड़ दो हत्याएं

फर्रुखाबाद में लॉकडाउन के बीच ताबड़तोड़ दो हत्याएं

लॉकडाउन के बीच शुक्रवार को अलग-अलग स्थानों पर हुई दो हत्याओं से शरह थर्रा उठा। शाम को पहले कायमगंज में घर के बंटवारे को लेकर बड़े भाई ने फिल्मी स्टाइल में छोटे भाई को गोलियों से भून डाला। घटना को लेकर पुलिस कार्रवाई कर ही रही थी कि देर शाम शहर की काशीराम कॉलोनी हैबतपुर गढ़िया में एक और हत्या की खबर आ गई। यहां एक पुराने विवाद में किन्नर को गोलियों से भून डाला गया। किन्नर लाकडाउन में हल्द्वानी से आया था।

कायमगंज के मोहल्ला छपटटी निवासी ब्रजेश तीन भाईयों में बीच के थे। शुक्रवार शाम ब्रजेश का बडे़ भाई सतीश से बटवारे को लेकर विवाद हो गया। मामला इतना बढ़ गया कि सतीष तमंचा लेकर उसे मारने के लिए दौड़ पड़ा। यह देख ब्रजेश जान बचाने के लिए मोहल्ले की तरफ भागा। सतीश ने उसका पीछा करते हुए तीन फायर झोंक दिए। गोली लगने से ब्रजेश लहूलुहान होकर गली में गिर पड़ा। गोलियों की तड़तड़ाहट सुनकर मोहल्ले में सनसनी फैल गई। लोग घरों के बाहर निकल आए। आनन-फानन घायल को अस्पताल लाया गया, जहां से उसे गंभीर हालत में लोहिया अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। लोहिया पहुंचते ही डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिवारीजनों ने बताया ब्रजेश की शादी नहीं हुई थी। उसका घर के बंटवारें को लेकर विवाद चला आ रहा है। कुछ साल पहले ब्रजेश ने घर में आग भी लगा दी थी। वह आए दिन वह विवाद करता था। उधर, हमलावर सतीश तमंचा लेकर खुद कोतवाली पहुंच गया। उसने अपना गुनाह कुबूल करते हुए कहा, वह भाई की हरकतों से तंग आ चुका था। आरोपित को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। इंस्पेक्टर विनय प्रकाश राय ने बताया कि मृतक की मां उमा देवी ने सतीश के खिलाफ जानलेवा हमले की जो तहरीर दी थी उस पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अब इसे हत्या में तरबीम कर दिया जाएगा ।

किन्नर को घर से बुलाकर उतारा मौत के घाट

दूसरी दिल दहलाने वाली घटना काशीराम कॉलोनी में हुई। यहां बागरुस्तम निवासी अफजल खान का 30 वर्षीय किन्नर पुत्र शवाब उर्फ अंजली अपनी बुआ रहीसा वेगम के साथ रहता था। लॉकडाउन के दौरान ही वह हल्द्वानी से यहां आया था। उसने काशीराम कॉलोनी में एक युवक को कुछ पैसे उधार दिए थे पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था। शाम को कुछ युवक अफजल के घर गए और शवाब को नीचे बुलाने लगे जैसे ही वह नीचे पहुंचा युवक उसे पीटने लगा औऱ तमंचे से गोली मार दी। गोली लगते ही किन्नर ने मौते पर दम तोड़ दिया। अफजल ने बताया शबाब चार साल पहले किन्नर बन गया था वो कभी-कभी यहां पर आता था। अभी लॉक डाउन के चलते बुआ के पास आ गया था उसका काशीराम कॉलोनी में एक युवक से पैसे के लेनदेन लेकर विवाद रहा था।

सीओ सिटी ने बताया कि घटना के पीछे कॉलोनी में एक आवाज पर कब्जे को लेकर विवाद था जिसके चलते किन्नर की हत्या की गई है। पूरे मामले की तहकीकात के बाद कार्रवाई की जाएगी। घटना में वहीं के तीन-चार युवक शामिल हैं इनका पता लगाया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Two murders between lockdown in Farrukhabad