DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › मरीज और डॉक्टर के बीच हो आत्मीयता का रिश्ता : सीएमओ
फर्रुखाबाद कन्नौज

मरीज और डॉक्टर के बीच हो आत्मीयता का रिश्ता : सीएमओ

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजPublished By: Newswrap
Thu, 16 Sep 2021 05:31 AM
मरीज और डॉक्टर के बीच हो आत्मीयता का रिश्ता : सीएमओ

फर्रुखाबाद। संवाददाता

17 सितम्बर को विश्व मरीज सुरक्षा दिवस मनाया जाता है। इसकी घोषणा 72वीं वर्ल्ड हेल्थ असेम्बली में मई 2019 में की गई थी। इसका उद्देश्य स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाना, रोगियों की सुरक्षा, स्वास्थ्य कर्मियों के प्रति जागरूकता तथा इसके लिए सहयोग को बढ़ावा देना है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सतीश चन्द्रा ने कहा कि आज डॉक्टर हो या मरीज अपने बीच आत्मीयता का रिश्ता ही भूलते जा रहे हैं। अगर दोनों के बीच यह सुधर जाये तो मरीज भी जल्द स्वस्थ हो सकता है और उसके स्वस्थ होने पर स्वास्थ्य कर्मियों को भी संतोष की अनुभूति होगी।

सीएमओ ने सभी स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया कि स्वास्थ्य केंद्र पर विश्व मरीज सुरक्षा दिवस पर मरीज की सुरक्षा, उनके अधिकार, मरीजों और उनके परिवार से उचित व्यवहार करने की शपथ लें। इसके साथ ही चिकित्सालय में आने वाले मरीजों और उनके तीमारदारों को भी उनके कर्तव्यों का बोध कराएं। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दलवीर सिंह ने कहा कि इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य स्वास्थ्य कर्मियों को उनके कार्य का बोध कराना होता है। अस्पताल में आने वाले मरीजों के साथ हमें प्यार के साथ पेश आना चाहिए। यही दायित्व मरीज और तीमारदार का स्वास्थ्य कर्मियों के प्रति भी बनता है। डा. शेखर यादव ने कहा कि हमें चिकित्सालय में आने वाले प्रत्येक मरीज और तीमारदार से मित्रवत व्यवहार करना चाहिए तभी आप उनके दिल में जगह बना सकते हो। मरीज को भी आपकी सहानभूति और प्यार की जरुरत होती है। अगर आप उससे मित्रवत व्यवहार करेंगे तो वह जल्द स्वस्थ होकर अपने घर जा सकेगा।

संबंधित खबरें