ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसरकारी गेहूं खरीद केंद्रों पर सन्नाटा

सरकारी गेहूं खरीद केंद्रों पर सन्नाटा

फर्रुखाबाद, संवाददाता। भीषण गर्मी का असर अब चहुंओर देखने को मिल रहा है। हीटवेव...

सरकारी गेहूं खरीद केंद्रों पर सन्नाटा
हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजMon, 27 May 2024 11:20 PM
ऐप पर पढ़ें

फर्रुखाबाद, संवाददाता।

भीषण गर्मी का असर अब चहुंओर देखने को मिल रहा है। हीटवेव के चलते जिले के गेहूं केंद्रों पर किसान नहीं पहुंच रहे हैं। इसलिए अभी तक 48 खरीद केंद्रों पर अभी 5205 एमटी गेहूं की खरीद की जा सकी है। कम खरीद होने से जिम्मेदार भी परेशान हैं।

जिले में 48 गेहूं खरीद केंद्र हैं इसमें एफसीएस के दस खरीद केंद्र हैं। एफसीआई के चार खरीद केंद्र है और पीसीएफ के 33 गेहूं खरीद केंद्र है। इस बार मंडी समिति का भी एक गेहूं खरीद केंद्र खोला गया हैं। जिला प्रशासन के तमाम प्रयास के बाद भी गेहूं खरीद में इजाफा नहीं हो पा रहा है। अभी तक 48 खरीद केंद्रों पर 5205 एमटी ही गेहूं की खरीद हो सकी है। जबकि इस बार जिले को गेहूं की खरीद का लक्ष्य 48 हजार एमटी है। बीते दो वर्षों से गेहूं की हो रही कम खरीद को देखते हुए इस बार गेहूं की खरीद करने के लिए मार्च माह से ही खरीद केंद्र खोल दिए गए थे। खरीद केंद्र प्रभारियों को निर्देश दिए गए थे कि वह किसानों से संपर्क करें और उनको खरीद केंद्रों पर गेहूं की बिक्री करने को लेकर प्रेरित करें। जिले के खरीद केंद्र प्रभारियों ने गांव गांव की पगडंडियों पर चलकर किसानों से संपर्क भी किया लेकिन इसका बहुत अधिक लाभ नहीं हुआ। लगातार प्रयास के बाद भी खरीद केंद्रो से किसान दूरी बनाए हुए हैं। इसका मुख्य कारण सरकारी भाव की अपेक्षा गेहूं का बाजार भाव अधिक होना रहा है। जिले ने हुए लोक सभा चुनाव और इसके बाद अब पड रही भीषण गर्मी ने भी गेहूं की खरीद को प्रभावित किया है। इस समय चिलचिलाती धूप में घर से बाहर निकलने की हिम्मत नही हो रही है इसलिए देखा गया है सरकारी गेहूं खरीद केंद्रों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। डिप्टी एआरएमओ ने बताया गेहूं खरीद को बढ़ाने के लिए केंद्र प्रभारी किसानों से संपर्क साध रहे है। इस समय भीषण गर्मी का भी असर है कि जो किसान गेहूं लेकर पहुंचते थे वह अब नहीं आ रहे है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
अगला लेख पढ़ें