DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › स्पष्टीकरण देने के बाद भी नए शिक्षकों का वेतन लटका
फर्रुखाबाद कन्नौज

स्पष्टीकरण देने के बाद भी नए शिक्षकों का वेतन लटका

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजPublished By: Newswrap
Sat, 31 Jul 2021 11:51 PM
स्पष्टीकरण देने के बाद भी नए शिक्षकों का वेतन लटका

फर्रुखाबाद। संवाददाता

प्राथमिक शिक्षक संघ के शिष्ट मंडल ने शनिवार को बीएसए से मुलाकात की। मांग पत्र देते हुए नए शिक्षकों की समस्याओं को उठाया। नए शिक्षको की ओर से स्पष्टीकरण देने के बाद भी उनका वेतन लटकाए जाने पर भी नाराजगी जताई गई।

अध्यक्ष भूपेश प्रकाश पाठक की अगुआई में उपाध्यक्ष वीरेंद्र त्रिवेदी, आर्येंद्र सिंह यादव, देवेश यादव, प्रवेश सिंह राठौर आदि ने बीएसए को मांग पत्र दिया। शिष्ट मंडल ने कहा कि नवनियुक्त शिक्षकों के पूर्ण सत्यापन हो चुके हैं। उन सभी शिक्षकों की सूची बनाकर अवशेष वेतन देने के लिए अविलंब आदेश दिए जाएं। अवशेष न मिलने से शिक्षकों में नाराजगी है। नवनियुक्त कई शिक्षकों के सत्यापन में विसंगति की वजह से वेतन भुगतान को आदेश नहीं किए गए थं। इन लोगों की ओर से स्पष्टीकरण भी उपलब्ध करा दिया गया। फिर भी इनका भुगतान नहीं किया जा रहा है। इन सभी को जुलाई माह के वेतन के साथ भुगतान कराना सुनिश्चित किया जाए।शिक्षक नेताओं ने कहा कि बीआरसी पर डाटा फीडिंग को पर्याप्त स्टाफ के बाद भी विद्यालय शिक्षकों को बाहर से डाटा फीडिंग करानी पड़ रही है। इससे शिक्षकों पर अतिरिक्त आर्थिक भार पड़ रहा है। शिक्षकों की खर्च हुई धनराशि को कंपोजिट ग्रांट से प्रतिपूर्ति के लिए बिल बाउचर लगाने को आदेशित किया जाए। ब्लाकों में अवशेष यन वेतनमान लगाने को बीपीओ को निर्देशित किए जाने के साथ ही एसएमसी और एमडीएम खातों में विभाग की ओर से भ्ेाजी गयी धनराशि का अंकन संबंधित बैंकों की ओर से किए जाने की भी मंाग की गयी। ग्रेच्युटी को लेकर भी समस्या उठाई गई। बीएसए ने शिक्षक नेताओं को आश्वासन दिया कि जो समस्याएं हैं उनका निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर कराया जाएगा। चयन वेतनमान को लेकर उठाई गई समस्या पर बीएसए ने कहा कि इसको लेकर पटल प्रभारी को प्रार्थना पत्र दिया जा सकता है जिससे कि समस्या का समाधान हो सके।

संबंधित खबरें