DA Image
23 अक्तूबर, 2020|3:31|IST

अगली स्टोरी

पुलिस ने श्रमिकों के नौनिहालों की लगाई पाठशाला

पुलिस ने श्रमिकों के नौनिहालों की लगाई पाठशाला

कोतवाली पुलिस का मित्र चेहरा सामने आया। ईट भट्ठों पर कार्य करने वाले श्रमिकों के नौनिहालों को शिक्षित करने का वीणा उठाया। पुलिस ने खुद जाकर उनकी पाठशाला शुरू कर दी। श्रमिक अभिभावक भी बोले वह तो निरक्षक रह गए, अब बस यही चाहते हैं कि शायद उनके बच्चे ही पढ लिख जाएं। अपराधियों को पकड़ कर सबब सिखाने वाली पुलिस का एक रूप तो सभी ने देखा ही है लेकिन पुलिस का मित्र चेहरा भी सामने आता रहता है।

कोतवाली कायमगंज के प्रभारी निरीक्षक डा़ विनय प्रकाश राय ने एक नजीर प्रस्तुत कर पुलिस महकमे के लिए एक अच्छी मिसाल पेश की है। कई बार पेट्रोलिंग के दौरान उन्होंने भट्ठों पर कार्य करने वाले श्रमिकों के बच्चों को इधर उधर टहलते देखा। खेलते देखा। उनके मन में सवाल कौधा क्यो न कुछ अपने बचे समय में इन बच्चों की पाठशाला लगाकर शिक्षित किया जाए। उन्होंने मुडौल स्थित एक ईट भट्ठे पर पहुंच कर श्रमिक अभिभावकों से बात की। श्रमिक बोले साहब हम तौ पढ़ लिख नहीं पाए। हमरे बच्चा पढ लिख जाए तो खुशी हुबै। फिर क्या था इंस्पेक्टर ने पुलिस की कार्यशैली से अलग पहचान स्थापित की। भट्ठे पर खुद कापी, पेंन्सिल, रबर, किताबे आदि लेकर पाठशाला ही लगा डाली। दूर से देख रहे श्रमिक अपने बच्चों को पढता देख खुश हुए। इंस्पेक्टर ने बताया कि बचे समय में वह व उनके पुलिस कर्मी हर रविवार को बच्चों की पाठशाला लगाएंगे। उन्होंने बच्चों को कार्य दिया है। वह पूरा करेगे। करीब तीन दर्जन से अधिक बच्चों ने पढाई शुरू की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Police set up school for laborers