DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बुखार से हाहाकार, निजामुद्दीन में नवजात की मौत
फर्रुखाबाद कन्नौज

बुखार से हाहाकार, निजामुद्दीन में नवजात की मौत

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 11:32 PM
बुखार से हाहाकार, निजामुद्दीन में नवजात की मौत

फर्रुखाबाद। संवाददाता

कायमगंज व कंपिल क्षेत्र में बुखार के प्रकोप से हाहाकार मचा हुआ है। कंपिल के निजामुद्दीन में बुखार पीड़ित नवजात की मौत हो गई। सीएचसी में इमजरेंसी कक्ष में बुखार पीड़ित मरीजों से बेड फुल नजर आए। डेंगू कक्ष में तीन मरीज भर्ती हुए है। नगर के मोहल्लों व ग्रामीण इलाकों में बुखार पीड़ितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है।

बुखार का प्रकोप तेजी से बढ़ता ही जा रहा है। सरकारी अस्पताल हो या फिर प्राइवेट चिकित्सक बुखार पीड़ितों की भीड़ देखी जा सकती है। बुखार के साथ जुखाम व खांसी के भी मरीज आ रहे हैं। गांव में ऐसा कोई घर नहीं है। जहां एक या दो लोग बुखार से पीड़ित न हो। वहीं नगर में भी बुखार का प्रकोप देखा जा रहा है। कंपिल क्षेत्र के गांव निजामुद्दीनपुर निवासी समीर का सात माह के पुत्र हसन को कई दिनों से बुखार आ रहा था। परिवारीजनों ने प्राइवेट दिखाया। हालत में सुधार न होने पर परिजन गंभीर हालत में अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। मौत पर परिवारीजनों में कोहराम मच गया। यदि सरकारी अस्पताल में शनिवार से दोपहर तक की इमरजेंसी कक्ष में आए मरीजों की पड़ताल करे तो कुल 25 मरीज इलाज के लिए पहुंचे जिसमें 13 मरीज सिर्फ बुखार से पीड़ित निकले, जिसमें चिलांका, नईबस्ती, चिलौली पठान, बजरिया सोहनलाल, अताईपुर, कंपिल के जिजौटा बुजुर्ग के लोग शामिल है। जहां घसिया चिलौली पठान के चार लोग बुखार से पीड़ित पहंुचे। वहीं चिलांका मोहल्ले के भी करीब तीन लोग इलाज कराने पहुंचे। इससे कहा जा सकता है बुखार गांव के अलावा नगर के मोहल्लों में फैला हुआ है। वहीं पितौरा व सुभानपुर में भी बुखार का प्रकोप देखा गया है। अस्पताल के डेंगू कक्ष में तीन मरीज भर्ती हुए। उनका इलाज जारी है, जिन बुखार पीड़ितों की प्लेटलेट्स 30 से 50 हजार होती है। अस्पताल से उन्हे फौरन उच्च चिकित्सा के लिए रेफर किया जा रहा है। नगर के कई मोहल्लों में बुखार पीड़ित लोगो का इलाज बाहर भी चल रहा है। बुखार को लेकर कायमगंज में हाहाकार मचा हुआ। इमजरेंसी कक्ष में पड़े आधा दर्जन बेड बुखार पीड़ितों से फुल नजर आए। वही सीएचसी में बरामदे में पड़ी बेंच पर भी बुखार से पीड़ित मरीज थे।

संबंधित खबरें