DA Image
25 सितम्बर, 2020|1:16|IST

अगली स्टोरी

ओपीडी में इलाज को छटपटा रहे मरीज

ओपीडी में इलाज को छटपटा रहे मरीज

1 / 3कोरोना काल में भले ही लोहिया पुरुष अस्पताल में ओपीडी की सेवा चालू हो पर इलाज कराने को मरीज छटपटा रहे हैं। दूर दराज से पहुंचते मरीजों को बगैर इलाज के ही बड़ी संख्या में लौटना पड़ रहा है। डॉक्टर समय से...

ओपीडी में इलाज को छटपटा रहे मरीज

2 / 3कोरोना काल में भले ही लोहिया पुरुष अस्पताल में ओपीडी की सेवा चालू हो पर इलाज कराने को मरीज छटपटा रहे हैं। दूर दराज से पहुंचते मरीजों को बगैर इलाज के ही बड़ी संख्या में लौटना पड़ रहा है। डॉक्टर समय से...

ओपीडी में इलाज को छटपटा रहे मरीज

3 / 3कोरोना काल में भले ही लोहिया पुरुष अस्पताल में ओपीडी की सेवा चालू हो पर इलाज कराने को मरीज छटपटा रहे हैं। दूर दराज से पहुंचते मरीजों को बगैर इलाज के ही बड़ी संख्या में लौटना पड़ रहा है। डॉक्टर समय से...

PreviousNext

कोरोना काल में भले ही लोहिया पुरुष अस्पताल में ओपीडी की सेवा चालू हो पर इलाज कराने को मरीज छटपटा रहे हैं। दूर दराज से पहुंचते मरीजों को बगैर इलाज के ही बड़ी संख्या में लौटना पड़ रहा है। डॉक्टर समय से कक्ष में बैठते नहीं, मरीज से हाल पूछकर ही दवा लिख दी जाती है। मंगलवार को ओपीडी मेे 400 से अघिक पर्चे बने। इलाज कराने को परेशान होकर लोग बड़ी संख्या में लौट गए। बच्चों को दूसरे दिन भी इलाज नहीं मिला इससे अभिभावक परेशान हुए। सुबह 11.30 बजे तक फिजीशियन डॉ.अशोक कुमार अपने कक्ष में नहीं बैठे। जबकि उनके इंतजार में दो दर्जन से अधिक मरीज रहे। जब समय अधिक हुआ तो ऐसे में बड़ी संख्या में मरीज बगैर दिखाए लौट गए। डॉ.मनोज पांडेय और गौरव मिश्रा ने अपने कक्षों में बेठकर मरीज देखे। हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ.बीके दुवे अवकाश पर थे। ऐसे में हड्डी रोगियों को इलाज के लिए भटकना पड़ा। इलाज को पहंुचे मरीजों को जब पता चला तो वह बगैर इलाज के लिए ही लौट गए। ओपीडी में सबसे बड़ी दिक्कत बच्चों के इलाज को लेकर आ रही है। हर रोज दो दर्जन से अधिक लोग अपने बच्चों को लेकर यहां आ रहे हैं और परेशान होकर लौट रहे हैं। कारण डॉक्टर के न बैठने का है। याकूतगंज से प्रियंका अपनी बेटी को लेकर आईं। परेशान होकर लौट गईं। पुठरी गांव से हरेंद्र अपने बच्चे को इलाज के लिए लेकर आए। बाद में घर लौटने को मजबूर हुए। पचपुखरा से राखी को भी लौटना पड़ा। इस तरह से और भी कई अभिभावक बगैर इलाज के बच्चों को घर ले गए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:OPD patients getting spooked for treatment