DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  गंगा नदी ने बढ़ाई मुसीबत, निचले इलाकों में हड़कंप
फर्रुखाबाद कन्नौज

गंगा नदी ने बढ़ाई मुसीबत, निचले इलाकों में हड़कंप

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजPublished By: Newswrap
Wed, 24 Jun 2020 11:28 PM
गंगा नदी ने बढ़ाई मुसीबत, निचले इलाकों में हड़कंप

मानसून के दस्तक देने के साथ ही गंगानदी ने अभी से मुसीबत बढ़ा दी है। इससे निचले इलाकों में हड़कंप मच गया है। पिछले 24 घंटे में तराई और गंगापार इलाके में बैराज से छोड़े गए पानी से नदियों मेें जलस्तर का दबाव बढ़ गया है। इससे लोग डरे हुए हैं। शाम तक नरौरा समेत विभिन्न बैराजों से गंगा और रामगंगा नदी में 80 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया। गंगानदी का जलस्तर भी गेज पर आ गया है। इससे लोगों की समस्या बढ़ सकती है। पिछले 24 घंटो में पहाड़ों पर हो रही बारिश का सीधा असर यहां गंगानदी के जलस्तर पर पड़ रह है। नरौरा से गंगानदी में 20129, हरिद्वार से 33166, बिजनौर से 27488, कालागढ़ से 2324 क्यूसेक पानी पास किया गया है। रामगंगा नदी में खो बैराज से 250, रामनगर से 1168 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। हरेली बैराज से फिलहाल पानी नहीं छोड़ा गया। गंगा नदी का जलस्तर भी बढ़कर 135.75 मीटर पर पहुंच गया है। नदी में पानी छोड़ने का सिलसिला यदि इसी तरह से जारी रहा तो आने वाले 24 घंटोंे में तराई और गंगापार इलाके के लोगों की मुश्किल बढ़ सकती है। गंगानदी में पानी का प्रभाव तेजी के साथ निचले इलाकों की ओर बढ़ रहा है। कई क्षेत्रों में नदी कटान भी करने लगी हैं। गंगापार के लोगों का कहना है कि अभी जिले में बारिश का दौर भी नहीं शुरू हुआ और गंगानदी ने अभी से अपने तेवर तीखे कर लिए हैं।

संबंधित खबरें