DA Image
6 दिसंबर, 2020|7:39|IST

अगली स्टोरी

मंडियो में किसानो को न सम्मान और न मिल रहा स्थान

मंडियो में किसानो को न सम्मान और न मिल रहा स्थान

मंडियो मे आढतियो का वर्चस्व कायम है। इसी के चलते मंड़ियो मे न तो किसानो को सम्मान मिलता है और न ही बैठने का स्थान मिलता है। किसानो के बैठने और सब्जियो को बेचने की जगहों को आढ़ती कब्जे मे लिए है। मण्डी समिति की लापरवाही के चलते किसानो मंडियो से दुत्कार मिल रही है। किसान आढतियों के बंधुआ मजदूर समान हो गए है। अर्राह पहाडपुर सब्जी मण्डी जिले की सबसे बड़ी सब्जी मण्डी है जहां से जिले सहित अन्य आस पास के इलाको मे सब्जियो की आपूर्ति होती है। मण्डी में बडी संख्या मे सब्जियों को बेचने को किसान पहुंचता है। पर मण्डी में किसानो के बैठने के लिए कोई स्थान नहीं है। जो स्थान किसानो के लिए चबूतरे के रुप मे बनाए गए थे उन पर भी आढतियों ने कब्जा जमा लिया है। जिसके चलते किसान अपनी सब्जियो को अपने मनमुताविक बेच नहीं पा रहा है। किसान कई बार मांग कर चुके है कि उनको बैठने के लिए कोई जगह दी जाए पर मण्डी समिति इस ओर कोई ध्यान नही दे रही है। किसानो का यह हाल एक मण्डी का नही है जिले की लगभग सभी मंडियो की स्थिति यही है। मंडियों मे किसान नहीं आढती की मर्जी से अपनी सब्जियां या अन्य माल बेचने को मजबूर है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farmers are not getting any respect or place in the mandis