ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशभीषण गर्मी ने मतदाता एक्सप्रेस में लगाये ब्रेक

भीषण गर्मी ने मतदाता एक्सप्रेस में लगाये ब्रेक

फर्रुखाबाद, संवाददाता। लोकसभा निर्वाचन में सुबह मौसम खुशगवार होने से लग रहा था कि...

भीषण गर्मी ने मतदाता एक्सप्रेस में लगाये ब्रेक
हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजTue, 14 May 2024 12:25 AM
ऐप पर पढ़ें

फर्रुखाबाद, संवाददाता। लोकसभा निर्वाचन में सुबह मौसम खुशगवार होने से लग रहा था कि पूरा दिन सही सलामत गुजरेगा। मगर दस बजे के बाद ही सूर्यदेव ने ऐसे तेवर दिखाये कि मतदाता अपने घरों में ही ठिठक कर रह गये और वोट डालने की हिम्मत नहीं कर पाये। अधिकतम पारा 40 डिग्री के ईद गिर्द रहा। इस वजह से दोपहर में वोट डालने वालों की संख्या में खासी कमी देखी गयी। लोकसभा निर्वाचन के लिए सुबह 7 बजे से जिस समय वोट डाले गये थे तो उस समय मौसम बेहद अच्छा था। 9 बजे तक मौसम सही सलामत रहा और आसमान में बदरा छाये रहे। इसी का परिणाम रहा कि लोकसभा क्षेत्र में 7 बजे से 9 बजे के मध्य 13.15 फीसदी वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर लिया था। करीब 11 बजे के बाद से सूर्यदेव के तल्ख तेवर हुये और इसी का परिणाम हुआ कि मतदाता भी घरों में ठिठक कर रह गये। दोपहर 1 बजे से 3 बजे के मध्य दो घंटे में जब सूर्यदेव आग बरसा रहे थे उस समय वोटर कम संख्या में घर से निकले। इसी का परिणाम था कि दो घंटों में पांचो विधानसभा क्षेत्रों में सिर्फ 9 फीसदी ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। निर्वाचन में महत्वपूर्ण बात यह रही कि जिस समय सूर्यदेव ने नरमी दिखायी उस समय भी वोटर बूथों की ओर नहीं निकले। 3 से 5 बजे के मध्य दो घंटों में सिर्फ सात फीसदी ही वोट मतदेय स्थलों पर अपने मताधिकार का प्रयोग करने पहुंचे। वैसे सोमवार को अधिकतम पारा 40 डिग्री के आस पास रहा था। हवायें चलती रहीं इसलिए इस वजह से लोगों को ज्यादा दिक्कत नहीं आयी। तो वहंीं मतदेय स्थलों पर भी भीषण गर्मी से बचाव के लिए इंतजाम कराये गये थे। इसका परिणाम था कि वोटर धीरे धीरे केंद्रों पर पहुंचते रहे। वोटरों का भी कहना था कि यदि केंद्रों पर सही इंतजाम नहीं रहते तो संभवत: इतनी संख्या में भी वोटर केंद्रों पर नहीं पहुंच पाते।

अपने गढ़ों में लाइन लगने से खुश दिखे सियासी दल

फर्रुखाबाद।

सुबह जब मौसम का रुख बढ़िया था उस समय मतदान केंद्रों पर लाइनें लग गयीं थीं। ऐसे में अपने अपने गढ़ों पर नजर रखे सियासी दलों के नेता उत्साहित हो गये। भीषण गर्मी के बीच हो रहे चुनाव के मध्य सुबह मौसम के राहत देने से मतदान प्रतिशत मे भी इजाफा हुआ। इससे सियासी दलों ने ढेरों उम्मीदें सजोकर रखीं। जैसे ही घड़ी की सुई 11 बजे पहुंची तो सूर्यदेव ने तल्खी दिखाना शुरू कर दिया। इसके बाद अपने अपने गढ़ों को सुरक्षित रखने के लिए डटे हुये सियासी दल मतदाताओं की बेरुखी से चिंतित होने लगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।