Tuesday, January 18, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशखेत में दौड़ाया करंट, किसान की मौत, विरोध में जाम

खेत में दौड़ाया करंट, किसान की मौत, विरोध में जाम

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजNewswrap
Sat, 27 Nov 2021 03:35 AM
फर्रुखाबाद। संवाददाता
 कमालगंज में खेत में लगाए गए कटीले तारों में दौड़ाए गए करंट...
1/ 2फर्रुखाबाद। संवाददाता कमालगंज में खेत में लगाए गए कटीले तारों में दौड़ाए गए करंट...
फर्रुखाबाद। संवाददाता
 कमालगंज में खेत में लगाए गए कटीले तारों में दौड़ाए गए करंट...
2/ 2फर्रुखाबाद। संवाददाता कमालगंज में खेत में लगाए गए कटीले तारों में दौड़ाए गए करंट...

फर्रुखाबाद। संवाददाता

कमालगंज में खेत में लगाए गए कटीले तारों में दौड़ाए गए करंट से एक किसान की मौत हो गई। उसे बचाने के चक्कर में बेटे के हाथ झुलस गए। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने परिजनों को साथ लेकर मुख्य रोड पर शव रखकर जाम लगा दिया। पुलिस ने पहुंचकर स्थिति संभाली।

श्रंगीरामपुर गांव निवासी 45 वर्षीय रावेंद्र जाटव शुक्रवार की भोर पुत्र सूरज के साथ बटाई पर लिए गए खेत में घर से पानी लगाने के लिए गए थे। चौपड़ा गांव निवासी एक ग्रामीण के खेत में कटीले तार जानवरों को रोकने के लिए लगाए गए थे। इसमें करंट दौड़ रहा था। किसान रावेंद्र जब बेटे के साथ अपने खेत में पहुंचा तो पास के खेत में लगे कटीले तारों से उसे जोर का करंट लग गया। बेटे ने जब उन्हें बचाने की कोशिश की तो उसके भी हाथ झुलस गए। करंट लगने से किसान की मौके पर ही मौत हो गई। जानकारी पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए।

किसान के शव को घर लाया गया। गुस्साए परिजनों ने ग्रामीणों के साथ श्रंगीरामपुर के रोड पर गांव के सामने किसान रावेंद्र का शव रखकर जाम लगा दिया। जिस किसान ने खेत में तार लगाकर करंट दौडा़या था, उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग शुरू कर दी गयी। जाम लगे होने की जानकारी पाकर कमालगंज थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। परिजनों को कार्रवाई का भरोसा दिया। इस पर परिजन मान गए। थानाध्यक्ष अमरपाल सिंह ने बताया कि परिजन तहरीर देंगे तो मुकदमा दर्ज होगा। पूरे मामले की जांच की जा रही है। उधर, ग्रामीणों का कहना है कि आसपास के कई खेतों में ग्रामीणों ने तार लगा रखे हैं। इस ओर अन्ना मवेशियों का आतंक है। फसलें उजाड़ रहे हैं इससे दिक्कतें हैं। किसान को नहीं पता था कि इसमें करंट दौड़ रहा है। इसके चलते किसान की जान चली गई।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें